तीन साल में सभी कृषि मंडियों को रेलवे प्लेटफार्म से जोड़ा जाएगाः मनोज सिन्हा

87c92a25-7ff9-456c-baec-c1e8114f9b20गाजीपुर। रेल मंत्रालय किसानों के हितों को लेकर फिक्रमंद है। उसकी कोशिश है कि किसान वाजिब कीमत के लिए देश के किसी भी मंडी में अपनी उपज भेजे। इसके लिए अगले तीन सालों में सभी प्रमुख मंडियों को रेलवे प्लेटफार्म से जोड़ दिए जाएंगे। यह जानकारी रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने दी। कृषि विज्ञान केंद्र, पीजी कॉलेज की ओर से लंका मैदान में बुधवार को आयोजित प्रदर्शनी और सम्मेलन में वह बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि अब तक 200 मंडियां रेलवे प्लेटफार्म से जुड़ चुकी हैं। इस वित्तीय साल में और 200मंडियां जुड़ जाएंगी। किसान अपनी उपज प्लेटफार्मों पर बने शीतगृहों में रखेंगे और इंटरनेट के जरिये वाजिब भाव देख कर संबंधित शहर की मंडी के लिए ट्रेनों से उसे भेज सकेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बखान करते हुए श्री सिन्हा ने कहा कि उन्होंने किसानों के दर्द को करीब से समझा है। यही वजह है कि प्रधानमंत्री ने फसल बीमा योजना लागू की। इस योजना के तहत नाम मात्र की प्रिमियम पर किसान अपनी फसल का बीमा करा सकते हैं। हालांकि श्री सिन्हा ने यह भी कहा कि बीमा योजना अधिकारियों के जरिये सफल नहीं होगा बल्कि इसमें आमजन की सहभागिता जरूरी है। ज्यादातर किसान अनपढ़ हैं। सुदूर इलाकों में रहते हैं। उन्हें अपने लिए सरकार की ओर से लागू इस योजनाओं की जानकारी नहीं हो सकती। यह काम आमजन कर सकता है। किसानों को योजना की जानकारी दे सकता है। इस मौके पर रेल राज्य मंत्री ने बताया कि गाजीपुर में और एक कृषि विज्ञान केंद्र स्थापित किया जाएगा। प्रदर्शनी में औषधीय, आर्गेनिक उपज के अलावा खाद, बीज तथा कृषि यंत्रों के स्टाल लगे थे। रेल राज्य मंत्री ने औषधीय तथा आर्गेनिक उपज के स्टालों पर कुछ ज्यादा ही उत्सुकता दिखाई। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, अटारी कानपुर के निदेशक डॉ.यूएस गौतम ने कृषि विज्ञान केंद्रों की भूमिका की चर्चा की और किसान हित में शुरू की गईं सरकार की योजनाओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। विशिष्ट अतिथि अंतर्यामी सिंह ने कहा कि कर्ज माफी से किसानों की आत्महत्या का सिलसिला नहीं थमेगा। जरूरी है कि उनकी समस्याओं के मूल को ढूंढ़ा जाए और उनके स्थाई निदान के उपाय किए जाएं। मंच पर केंद्र के चेयरमैन राजेश्वर प्रसाद सिंह तथा उनके प्रतिनिधि विवेक सिंह भी मौजूद थे। उसके पूर्व रेल राज्यमंत्री को एनसीसी के कैडेटों ने गॉड ऑफ आनर दिया। उन्होंने बकायदा फीता काट कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस मौके पर नगर पालिका परिषद के चेयरमैन विनोद अग्रवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष भानुप्रताप सिंह के अलावा भाजपा नेता मुराहू राजभर, अखिलेश सिंह, गजराज सिंह, बृजेंद्र राय, सच्चिदानंद राय चाचा, राजेश्वर सिंह, परीक्षित सिंह, संगीता बलवंत, ओमप्रकाश राय, रमाशंकर उपाध्याय, रामनरेश कुशवाहा, केएन सिंह आदि भी थे। अंत में केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रभारी डॉ.दिनेश सिंह ने आभार जताया।

=>
LIVE TV