ताजगंज के घियाई मंडी में आर्थिक तंगी से परेशन बिजली मिस्त्री ने कर ली खुदकुशी

कोरोना वायरस संक्रमण काल के कारण एक के बाद एक लोग मौत को गले लगा रहे हैं। लॉकडाउन का असर कामगारों पर अधिक पड़ा है। चंद रोज पहले आगरा में काम न मिलने से परेशान युवक ने मौत का रास्ता चुन लिया  था। अब शनिवार को फिर इसी तरह की घटना दोबारा हुइ। इस बार भी मौत का रास्ता रोजनदारी पर काम करने वाले एक युवक ने चुना है। ताजगंज के घियाई मंडी में आर्थिक तंगी से परेशन बिजली मिस्त्री ने खुदकुशी कर ली । वह लाकडाउन के बाद परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने और काम नहीं मिलने से परेशान था । शनिवार को उसका शव कमरे में पंखे पर मां की साड़ी से फंदे पर लटका मिला ।

ताज पूर्वी गेट स्थित घियाई मंडी निवासी सोमवीर उर्फ सोनू (32 वर्ष) पुत्र पूरन सिंह बिजली मिस्त्री था ।शनिवार की सुबह आठ बजे तक जब वह अपने कमरे से बाहर नहीं आया ।मां ने उसे उठाने कमरे पर पहुंची । दरवाजा अंदर से बंद होने पर काफी आवाज दीं। पुत्र सोनू ने कोई जवाब नहीं दिया तो मां ने खिड़की से झांक कर देखा । अंदर का दृश्य देख उसके होश उड़ गए। पुत्र का शव पंखे पर साड़ी के फंदे से लटका हुआ था । मां के शोर मचाने पर जुटे बस्ती के लोगों ने किसी तरह दरवाजे की कुंडी खोलकर शव को फंदे से नीचे उतारा ।

मां ने पुलिस को बताया कि सोनू दो भाइयों में छोटा था । बड़े भाई बब्बे की आठ महीने पहले बीमारी से मौत हो गयी थी। दोनों बहनों की शादी हो चुकी है। सोनू बिजली मिस्त्री था। वह काफी समय से काम की तलाश कर रहा था । कहीं से काम नहीं मिलने पर आर्थिक रूप से परेशान था। इससे वह तनाव में आ गया था । सीओ सदर महेश कुमार ने बताया कि युवक ने तनाव के चलते खुदकुशी की है । 

=>
LIVE TV