Thursday , August 17 2017

भारत को सुरक्षा देगा ये बड़ा देश, ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘मेक इन इंडिया’ को मिलेगा बढ़ावा

डिजिटल इंडिया नई दिल्ली| भारत सरकार का उद्देश्य जहां ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा देना है, ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई कंपनियां साइबर सुरक्षा से जुड़े खतरों के समाधान में मदद कर सकती है। ऑस्ट्रेलियाई व्यापार और निवेश आयोग (ऑस्ट्रेड) के वरिष्ठ व्यापार और निवेश आयुक्त जॉन मैडू ने प्रौद्योगिकी और नवाचार तथा भारतीय आईटी सेक्टर के बीच संबंधों का विस्तार करने के लिए छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ 21-24 नवंबर भारत का दौरा किया।

यह भी पढ़ें : भारत बंद का आज जवाब देंगे पीएम मोदी, विपक्ष होगा ढेर
मैडू ने यहां संवाददाताओं को बताया, “भारतीय आईटी कंपनियों को साइबर सुरक्षा में ऑस्ट्रेलिया की उन्नत क्षमताओं के बारे में अधिक जानने के लिए और कैसे वे अपनी आपूर्ति श्रृंखला में ऑस्ट्रेलियाई साइबर सुरक्षा समाधान को एकीकृत कर पाए और उन्हें अपने वैश्विक ग्राहकों के लिए पेश किया। यह मिशन एक उत्कृष्ट अवसर है।”

भारत, आस्ट्रेलिया का पांचवां सबसे बड़ा निर्यात बाजार है। साल 2015 में ऑस्ट्रेलिया ने कुल 13.5 अरब ऑस्ट्रेलियाई डॉलर के माल और सेवाओं का भारत को निर्यात किया।

2015 में ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच 19.8 अरब ऑस्ट्रेलियाई डॉलर का द्विपक्षीय कारोबार हुआ। भारत का आस्ट्रेलिया में कुल 11.6 अरब डॉलर का विदेशी निवेश है, जबकि ऑस्ट्रेलिया का भारत में 1.5 अरब ऑस्ट्रेलियाई डॉलर विदेशी निवेश है।

LIVE TV