जानिए साक्षी-अजितेश का वीडियो रहम की गुहार या गहरी साजिश को अंजाम , एक के बाद एक सामने आ रहा सच…

आजकल साक्षी-अजितेश का प्रेम विवाह का कथित कांट काफी चर्चा में हैं .वहीं इन दिनों दोनों ने एक अपना वीडियो भी जारी किया था . लेकिन कुछ जानकारी के अनुसार एक के बाद एक राज खुलते नज़र आ रह हैं.

 

भाजपा विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी के आरोपों से पांच दिन पहले सनसनी जरूर फैली थी लेकिन अब जैसे-जैसे एक के बाद एक राज खुल रहे हैं, उससे साफ हो रहा है कि यह मामला घर से भागकर प्रेमविवाह करने के साधारण मामले से ज्यादा कहीं पप्पू भरतौल को सबक सिखाने का था।

जानिए कुछ तकनीकी खामी के कारण चंद्रयान-2 को प्रक्षेपण से लगा दी गई रोक…

बतादें की इसका पूरा ताना-बाना बुनने में विधायक के करीबी रहे पार्टी के दो दिग्गज नेताओं के साथ उनके घर तक में पैठ रखने वाले उनके तथाकथित समर्थकों के नाम चर्चा में हैं।

देखा जाये तो इन्हीं में अजितेश उर्फ अभि के साथ दूसरा नाम गौरव उर्फ अरमान सिंह का भी है जिसे पुलिस ने पिछले साल मोहर्रम के दौरान हुए बवाल में नामजदगी के आधार पर उठाकर जेल भेजा है।

विधायक पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी तीन जुलाई को उस वक्त अजितेश के साथ घर छोड़कर चली गई थी, जब भरतौल अपनी पत्नी का इलाज कराने पीजीआई लखनऊ और उनका बेटा विक्की किसी और काम से दिल्ली गया हुआ था।

देखा जाये तो छह दिन तक यह मामला विधायक के परिवार और उनके करीबियों के बीच ही दबा रहा, सनसनी नौ जुलाई को तब फैली जब साक्षी और अजितेश का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें साक्षी ने अजितेश के साथ घर से भागकर शादी करने का खुलासा करते हुए अपने पिता पर उन दोनों की हत्या के लिए गुंडे पीछे लगाने का आरोप लगाया। इसके बाद साक्षी का एक और वीडियो वायरल हुआ, इसमें उसने अपने पिता और भाई को अजितेश या उसके परिवार को कोई नुकसान पहुंचने पर अंजाम भुगतने की चेतावनी दी थी।

दरअसल इसके बाद यह मामला टीवी चैनलों ने लपका तो देश भर में चर्चाओं में आ गया। विधायक पप्पू भरतौल ने इसके बाद छानबीन शुरू कराई तो पता चला कि यह सिर्फ साक्षी और अजितेश के बीच प्रेम संबंधों का ही मामला नहीं था बल्कि सुनियोजित ढंग से इसमें कुछ ऐसे लोगों ने भी अजितेश की मदद की थी जो पार्टी के कद्दावर नेता हैं। जहां इसके बाद इस मामले में पुलिस सक्रिय हुई।

वहीं पिछले साल मोहर्रम के दौरान हुए बवाल के बहाने भरतौल के करीबी रहे गौरव उर्फ अरमान सिंह को उठाया गया तो कई नए राज खुले। पता चला कि साक्षी को उसके घर से लेकर निकलने के बाद अजितेश लगातार फोन पर गौरव के संपर्क में रहा। जहां गौरव दावा कर रहा है कि उसकी छह महीने से अजितेश से बोलचाल बंद थी, लेकिन तीन जुलाई से छह जुलाई के बीच ही उसकी अजितेश से दिन में कई-कई बार बातचीत हुई।

 

 

=>
LIVE TV