जानिए अपने मरीजों को धोखा देता था यह सनकी डॉक्टर, अंतिम सांस के समय किया ऐसा खुलासा

नई दिल्ली : नीदरलैंड का एक डॉक्टर 49 बच्चों का पिता हैं। यह बात जब सामने आई तो सब हैरान रह गए। देखा जाये तो जेन करबैट नाम का यह डॉक्टर अपने मरीजों से धोखा करता था। जैसा की आप जानते हैं कि आज के समय में कई महिलाएं हैं जो मां बनने के लिए नई तकनीक आईवीएफ का सहारा लेती हैं। नीदरलैंड के रॉटेरडम में भी कई महिलाओं ने आईवीएफ के जरिए मां बनने के लिए डॉक्टर जेन करबैट से संपर्क किया हैं।

 

 

अंतिम साँस

 

बता दें की जेन करबैट अपने मरीजों के साथ धोखा करता था। वह डोनर के स्पर्म से अपना स्पर्म बदलकर उसे आईवीएफ तकनीक के लिए इस्तेमाल करता था। जहां नीदरलैंड में डॉक्टर के इस धोखे का खुलासा तब हुआ जब ‘डिफेंस फॉर चिल्ड्रन’ नाम के एक संगठन ने आईवीएफ के जरिए पैदा हुए बच्चों का डीएनए टेस्ट करवाया।

 

घर में मनी प्लांट लगाने जा रहे हैं ? जान ले ये 7 बातें …

 

 

इस डीएनए टेस्ट में पता चला कि करबैट 49 बच्चों का पिता है। कि साल 2009 में डॉक्टर करबैट के क्लिनिक को अनियमितता की वजह से बंद कर दिया गया था। साल 2017 में करबैट ने अपनी अंतिम सांस लेते समय यह बात कबूली थी जिसकी उम्र 89 साल की उम्र में करबैट ने यह बात कबूल की थी कि वह 60 बच्चों का पिता है।

 

वहीं डॉक्टर करबैट की मौत के बाद कोर्ट ने फैसला दिया कि उसके डीएनए सैम्पल्स पीड़ित बच्चों के डीएनए से मैच कराए जाएं। ‘करबैट के बच्चों’ को न्याय मिलने में समय लगने की वजह से उन्होंने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया जिसके बाद डीएनए टेस्ट की रिपोर्ट को सार्वजनिक किया गया। डिफेंस फॉर चिल्ड्रन संगठन का कहना है कि संभावना है कि करबैट 49 से ज्यादा बच्चों का पिता हो सकता है।

 

https://www.youtube.com/watch?v=42p6AW-O1cI

 

=>
LIVE TV