जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर बदला लेने की सोच रहा पाकिस्तान, लेकिन भारतीय सेना भी पूरी तरह तैयार

एक तरफ जहाँ जम्मू-कश्मीर में हालात अब सामान्य हो रहे हैं, वहीँ दूसरी तरफ पाकिस्तान इस मुद्दे पर अलग थलग पड़ गया है. कोई भी देश पाकिस्तान का साथ देने को तैयार नहीं है. पाकिस्तान अब अपनी खिसियाहट निकालने के लिए सीमा पर किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार है. लगातार सीमा पर पाकिस्तान की तरफ से गोलीबारी हो रही है. लेकिन अब भारतीय सेना ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब देने लिए तैयारी कर ली है.

jammu kashmir

इसके लिए पाकिस्तान नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर सीजफायर उल्लंघन कर ठंड शुरु होने से पहले ज्यादा से ज्यादा घुसपैठ कराने की फिराक में है। इसके लिए पाकिस्तान अफगानिस्तान सीमा से बड़ी संख्या  में अपने सैनिक को भारत-पाक सीमा पर जमा कर रहा है। पाक सेना को मुंहतोड़ जबाव देने के साथ घुसपैठ रोकने के लिए भारतीय सेना ने कई स्तर पर तैयारी की है।

सेना सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान सिर्फ एलओसी पर ही नहीं बल्कि कश्मीर, पंजाब, गुजरात और राजस्थान से लगे अंतराष्ट्रीय सीमा (आईबी) से भी हड़कत करने की कोशिश में है। सेना की खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक पाक सेना और आईएसआई अलग से इस योजना पर काम कर रही है।

फलस्वरुप रक्षा मंत्रालय और गृहमंत्रालय मिलकर आईबी पर खास इंतजाम कर रहे हैं। गौरतलब है कि आईबी पर सेना नहीं बल्कि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) तैनात रहती है। नए इंतजाम के तहत सेना को भी बीएसएफ की मदद के लिए तैयार रहने को कहा गया है।

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की हालत फिर नाजुक, देश के बड़े नेता पहुंचे मिलने

सेना सूत्रों ने बताया कि भारतीय सेना के कोल्ड स्टार्ट सिद्धांत की वजह से पाकिस्तान सीधे युद्ध के विकल्प पर जाने से पहले दस बार सोंचेगा। संसद पर हमले के बाद तैयार की गई कोल्ड स्टार्ट सिद्धांत के तहत भारत किसी भी समय युद्ध की शुरुआत कर सकता है।

इसके लिए सेना को बड़ी तैयारी की जरुरत नहीं। जबकि पाकिस्तान को इसके लिए सीमा पर बड़ा जमावड़ा करना होगा। लिहाजा पाकिस्तान खुले तौर पर युद्ध की बात करने से बचने की कोशिश कर रहा है।

=>
LIVE TV