जम्मू – कश्मीर के हालातों में सुधार , नज़रबंद नेता बहुत जल्द किये जाएंगे रिहा – अमित शाह 

भारत सरकार द्वारा जम्मू – कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू – कश्मीर में हालत बिगड़ते हुए नज़र आ रहे थे. वहीं देखा जाये तो अब जम्मेंमू – कश्मीर हालात सुधारते हुए नज़र आ रहे है .

 

 

 

ख़बरों की माने तो जम्मू कश्मीर में हालात धीरे धीरे सामान्य हो रहे हैं और पूर्व सीएम समेत हिरासती नेताओं को जल्द ही रिहा किया जाएगा. यह जानकारी गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने शुक्रवार को संसद की एक समिति को दी, साथ ही बताया कि पूर्व मुख्यमंत्रियों सहित हिरासत में लिए गए नेताओं को जल्द ही रिहा किया जाएगा, किन्तु उन्होंने इसके लिए कोई समय सीमा नहीं बताई.

 

खुशखबरी ! 8वीं पास युवाओं को मिल रहा हैं सरकारी नौकरी का सुनेहरा मौका , इस पदों पर निकली बम्पर भर्तियां…

 

जहां कांग्रेस नेता आनंद शर्मा के नेतृत्व वाली गृह मामलों की संसद की स्थायी समिति को केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला, मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव ज्ञानेश कुमार और अन्य अधिकारियों ने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की स्थिति के बारे में जानकारी दी.

ऐसा बताया जाता है कि समिति के कुछ सदस्यों ने सरकारी अफसरों से कहा है कि उन्हें कश्मीर जाने दिया जाने दिया जाना चाहिए, किन्तु इस मांग को खारिज कर दिया गया.

दरअसल लोकसभा और राज्य सभा के सदस्यों ने सरकार के शीर्ष अधिकारियों से हिरासत में लिए गए नेताओं, विशेषकर पर तीन बार CM रहे और श्रीनगर से सांसद फारूक अब्दुल्ला के संबंध में सवाल किए जिन्हें 17 सितंबर को जन सुरक्षा कानून के तहत हिरासत में लिया गया था.

जहां गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने संसदीय समिति को बताया है कि जिन्हें जन सुरक्षा कानून (PSA) के तहत नज़रबंद किया गया है, वे इसे अधिकृत न्यायाधिकरण में चुनौती दे सकते हैं तथा उसके आदेश से अंसतुष्ट होने पर हाई कोर्ट का रुख कर सकते हैं.

 

=>
LIVE TV