चंद्र कुमार बोस का दावा- पीएम नरेंद्र मोदी में हैं नेताजी सुभाषचंद्र बोस के गुण

bose-s_145896035679_650x425_032616082053bose-s_145896035679_650x425_032616082053एजेन्सी/पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में सीएम ममता बनर्जी के सामने बीजेपी उम्मीदवार चंद्र कुमार बोस ने पीएम नरेंद्र मोदी को नेताजी सुभाषचंद्र जैसी काबिलियत वाला बताया. नेताजी के पड़पोते चंद्र ने दोनों में कई गुणों की समानता बताई.

नरेंद्र मोदी में देखता हूं नेताजी के गुण
टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में चंद्र कुमार बोस ने कहा कि पहले मैं सोचता था कि नेताजी के साथ किसी की तुलना करना नाइंसाफी होगी, लेकिन मुझे यह कहने में कोई हिचक नहीं है कि पीएम नरेंद्र मोदी में कई गुण नेताजी सुभाषचंद्र जैसे हैं. दोनों में कई समानता दिखती है. मैं हमेशा मोदीजी में नेताजी के गुणों को देखता हूं.

बीजेपी से रहा है घरेलू रिश्ता
बोस ने अपने परिवार की राजनीतिक पृष्ठभूमि की जानकारी देते हुए बताया कि अटल बिहारी वाजपेयी के समय में चंद्र के पिता अमिय कुमार बोस चार साल तक पश्चिम बंगाल बीजेपी के उपाध्यक्ष रहे. उन्होंने अपने परिवार को लोगों के कांग्रेस, फॉरवर्ड ब्लॉक और तृणमूल कांग्रेस में रहने की भी जानकारी दी. चंद्र कुमार बोस ने कहा कि वह नेताजी के विचारों को लोगों तक फैलाना चाहते हैं. उन्हें लगता है कि मोदी के नेतृत्व में वह ऐसा कर सकते हैं.

नेताजी से जुड़ी फाइलों पर राजनीति नहीं
चंद्र कुमार बोस ने कहा कि नरेंद्र मोदी के पीएम बनने से पहले पांच की मिनट की मुलाकात में नेताजी से जुड़ी फाइल सार्वजनिक करने की अर्जी पर पीएम मोदी ने कार्रवाई की. उन्होंने इस पर कोई राजनीति नहीं की. इसके पहले ममता बनर्जी से कई बार कहा गया. उन्होंने भी कुछ फाइल सार्वजनिक किए, लेकिन उन्होंने अपना राजनीतिक हित देखा.

नेताजी के विचारों को बढ़ाने के लिए जीतेंगे
चंद्र ने कहा कि ममता के खिलाफ उतार कर बीजेपी ने उन्हें बलि का बकरा नहीं बनाया है. वह जीतेंगे और नेताजी के विचारों को आगे बढ़ाएंगे. कांग्रेस ने नेताजी के विचारों को खत्म करने की पूरी कोशिश की है. उन्होंने कहा कि बीजेपी को बदनाम करने के लिए विपक्ष और मीडिया ने असहिष्णुता जैसे मुद्दे पर अधिक चर्चा की.

टीएमसी और कांग्रेस सांप्रदायिक पार्टी
उन्होंने कहा कि बीफ बैन जैसे मुद्दे पर उनकी पार्टी के अंदर अपनी अलग राय है. पार्टी में कुछ सांप्रदायिक नेताओं के होने से उन्होंने सहमति जताई. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी उन सबसे अधिक सांप्रदायिक नेता हैं और कांग्रेस सबसे बड़ी सांप्रदायिक पार्टी है. कांग्रेस ने ही बीजेपी के सांप्रदायिक होने की अफवाह फैलाने में कामयाबी पाई है.

=>
LIVE TV