जानिए पुरुषों की त्वचा और बालों की देखभाल के लिए अपनाएं ये 8 ग्रूमिंग टिप्स

जब चेहरे के बालों की बात आती है, तो अधिकांश पुरुष इसे प्राथमिकता नहीं देते हैं। यह तब और भी हैरान करने वाला हो जाता है। लोगों को लगता है कि सिर्फ शेविंग कर ली और बस तैयार हो गए। मगर ऐसा नहीं है। ग्रूमिंग को लेकर अमूमन पुरुष सौंदर्य को लेकर उतने सजग नहीं होते, जितनी महिलाएं होती हैं। यहां तक कि पुरुषों के शेविंग किट में भी सभी ज़रूरी चीज़ें नहीं होती हैं। जबकि ऐसा नहीं होना चाहिए। आपको भी अपनी उतनी ही केयर करनी चाहिए, जितना कि महिलाएं स्‍वयं करती हैं। ग्रूमिंग के लिए किन-किन बातों का ध्‍यान रखना चाहिए, आइए जानते हैं।

 पुरुषों की त्वचा और बालों की देखभाल के लिए ये 8 ग्रूमिंग टिप्स

ज़रूरी है बॉडी वॉश

सुबह नहाना जितना ज़रूरी है, उससे कहीं अधिक ज़रूरी है सही तरीके से नहाना क्योंकि अगर आप सही तरीके से स्नान नहीं करेंगे तो आपका शरीर साफ नहीं होगा और शरीर में बैक्टीरिया होंगे। इसलिए अपने बाथरूम में एमिनो एसिड युक्त बॉडी वॉश ज़रूर रखें। इससे पूरे दिन आपकी त्वचा को नमी मिलेगी और त्वचा में रूखापन भी नहीं आएगा।

जानिए क्या होते हैं पेरेंटिंग चैलेंजिज, और जॉब के साथ कैसे रखें पार्टनर और बच्चे को खुश…

शैंपू और कंडीशनर

अमूमन पुरुष बाल धोने के लिए शरीर में लगाने वाले साबुन का ही प्रयोग कर लेते हैं, जो बालों को नु$कसान पहुंचाता है। इसलिए नियमित रूप से शैंपू और कंडीशनर का प्रयोग पुरुषों के लिए करना भी ज़रूरी है। शैंपू और कंडीशनर से स्कैल्प मॉयस्चराइज़ होता है और बालों के झडऩे की समस्या नहीं होती।

शेविंग क्रीम भी ज़रूरी है

अच्छी और स्मूथ शेव के लिए शेविंग से पहले शेविंग क्रीम का प्रयोग करना बहुत ज़रूरी है। दाढ़ी पर रेज़र लगाने से पहले अगर शेविंग क्रीम का प्रयोग न किया जाए तो त्वचा सख़्त रहती है, जिसके कारण कट लगने की संभावना बढ़ जाती है और साथ ही रेज़र के संपर्क में आने से त्वचा पर रैशेज़ भी पड़ सकते हैं। इसलिए पुरुषों को उनके किट में शेविंग क्रीम ज़रूर रखनी चाहिए।

रेज़र जो हो सही

शेव करने के लिए पुरुषों को रेज़र की जरूरत पड़ती है, लेकिन अगर रेज़र अच्छा नहीं है या पुराना है तो इसके कारण कट या फिर संक्रमण हो सकता है। इसलिए आधुनिक (3 या 5 ब्लेड लगे) रेज़र का ही प्रयोग करें। इसके अलावा बैटरी वाले ट्रिमर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

क्लींजिंग जेल

चेहरे की त्वचा शरीर के दूसरे अंगों की तुलना में अधिक मुलायम और संवेदनशील होती है। अगर चेहरे पर सामान्य साबुन का प्रयोग किया जाए तो इससे त्वचा की नमी कम होती है और त्वचा ड्राई हो जाती है। इसलिए त्वचा की प्राकृतिक नमी बरकरार रखने के लिए क्लींजिंग जेल का प्रयोग करना चाहिए।

हाइपरहाइड्रोसिस बीमारी के कारण, हाथेलियों और तलवों में आता है पसीना, जानें इसके कारण और रोकथाम

डिओड्रेंट है खास

अच्छी सुगंध सबको अपनी तरफ आकर्षित करती है। इसलिए डिओड्रेंट लगाएं। यह ऐसा हो, जो आपके कपड़े पर दाग न लगाए। ध्यान दें कि उसमें ऐसे केमिकल न हों, जो त्वचा को नुकसान पहुंचाएं। इसलिए अपने बाथरूम में खास डिओड्रेंट ज़रूर रखें।

मॉयस्चराइज़र

मॉयस्चराइज़र केवल उन पुरुषों के लिए नहीं है, जिनकी स्किन ड्राई होती है। यह सभी के लिए ज़रूरी है। दरसअल सूर्य से निकलने वाली अल्ट्रा वॉयलेट किरणें त्वचा को नुकसान पहुंचाती हैं, इससे बचने के लिए एसपीएफ 15 वाली मॉयस्चराइज़र क्रीम का प्रयोग करें।

टूथपेस्ट और टूथब्रश

मुंह और दांतों को बीमारी से बचाने के लिए नियमित ब्रश करना ज़रूरी है लेकिन अगर सही ब्रश और टूथपेस्ट का प्रयोग न किया जाए तो दांत अच्छी तरह साफ नहीं हो पाते और दांतों में संक्रमण हो सकता है। इसलिए ऐसे ब्रश का चुनाव करें, जो मुलायम हो और दांतों पर अधिक दबाव न पड़े। ऐसे टूथपेस्ट का यूज़ करें, जिसमें सोडियम क्लोराइड हो जो कैविटी से बचाता है।

=>
LIVE TV