गुरु के पास से लौट रहे तीन लोगों की नाव पलटने से मौत

boat_5710bf2fa542dएजेंसी/भोपाल : मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के सिद्धघाट में गुरुवार रात नर्मदा नदी में एक नाव पलट गई, जिससे तीन लोगों की मौत हो गई। जब कि तीन लोग तैरकर बाहर आने में सफल रहे और अपनी जान बचाई। मृतक घटनास्थल से करीब 15 किलोमीटर दूर नरसिंहपुर जिले के कौड़िया के रहने वाले थे।

ये लोग सिद्धघाट के महाराजजी के दर्शन करके लौट रहे थे। जिंदा बचे राकेश उदैनिया ने हादसे की आंखो देखी कहानी बयां की। मृतकों के साथ नाव में नाविक के अलावा विजय बतया और आरएसएस के जिला संघचालक राकेश उदैनिया मौजूद थे। यही तीनों तैरकर बाहर निकल पाए।

सभी लोग गुरुवार की शाम को 4 बजे रायसेन के लिए निकले थे। सिद्धघाट में इनके महाराज जी का आश्रम है। पिछले 15 सालों से ये सभी वहां नियमित रुप से जाते थे। करीब 12 बजे ये लोग वापस अपने घर के लिए रवाना हुए। तभी रास्ते में बहाव तेज होने के कारण नाव नहीं संभल पाई और नाव पलट गई।

मृतकों का पोस्टमार्टम शुक्रवार को हुआ। मृतक अजय राज ममार का बेटा और बेटी भोपाल में पढ़ते हैं। मृतक अखिलेश जगाती के दो बेटे और एक बेटी हैं। मृतक राजेश पटेल के दो बेटे और एक बेटी हैं। राकेश ने बताया कि नाविक ने हमें महाराज जी के ही आश्रम में ठहरने के लिए कहा था।

लेकिन हम नहीं मानें। हम रास्ते में चर्चा कर रहे थे कि रास्ते में कुछ अनहोनी हुई तो हम नाव वापस ले लेंगे। लेकिन जब तक कुछ समझ पाते नाव पलट गई और हम सब बचाओ-बचाओ चिल्लाने लगे। करीब डेढ़ घंटे बाद हमें अपने दोस्त की लाश मिली।

=>
LIVE TV