गर्ल्स कॉलेज का लड़कियों के लिए अलग फरमान , सूट पहने तब आएंगे अच्छे रिश्ते…

लड़कियों के लेकर अलग ही कॉलेज के साथ – साथ स्कूल वालो के फरमान रहते हैं. लड़कियों कि यूनीफ्रॉम को लेकर भी अनेक नियम होते हैं.वहीं ऐसे ही एक गर्ल्स कॉलेज का मामला सामने आया हैं. जिसे सुनकर लड़कियां विरोध करने कि कोशिश कर रही हैं.

 

 

 

खबरों के मुताबिक हैदराबाद के प्रतिष्ठित सेंट फ्रांसिस गर्ल्स कॉलेज में छात्राओं के ड्रेस कोड को लेकर नया आदेश जारी किया गया है. जिसके तहत छात्राओं को आस्तीन के साथ घुटने से नीचे कुर्तियां पहनने के लिए कहा गया है. साथ ही कॉलेज प्रशासन ने शॉर्ट्स, स्लीवलेस या इसी तरह के अन्य कपड़े पहनने पर प्रतिबंध भी लगाया गया है.

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के कुत्ते की मौत , दो डॉक्टरों पर एफआईआर दर्ज… 

जहां नए नियम लागू होने के बाद जो छात्राएं आदेश का पालन नहीं कर रही हैं, उन्हें क्लास में आने की इजाजत नहीं दी गई. कॉलेज प्रशासन ने नया ड्रेस कोड 1 अगस्त से लागू कर दिया है. छात्राओं ने इसका विरोध किया और वीडियो बनाया. नए नियम को लेकर छात्राओं का कहना है कि ऐसे वक्त में जब हम महिला सशक्तीकरण के बारे में बात की जा रही है तो इस तरह का फरमान जारी करना अभियान के खिलाफ है.

सेंट फ्रांसिस कॉलेज के एक पूर्व छात्रा ने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि कॉलेज ने सत्र के बीच में नए ड्रेस कोड का ऐलान किया गया है. छात्रा ने कहा कि छात्र प्रतिनिधियों को बताया गया था कि लंबी कुर्ती पहनने से शादी के अच्छे प्रस्ताव मिलेंगे. पूर्व छात्रा ने अपने पोस्ट में आगे लिखा कि कॉलेज के अधिकारियों ने छात्र प्रतिनिधियों से कहा कि इस आदेश के खिलाफ आवाज उठाना ठीक नहीं है.

छात्रा ने अपनी पोस्ट में कहा कि घुटने से थोड़ी सी भी ऊंची कुर्ती पहनने पर उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है. पूर्व छात्रा ने कहा कि जो भी छात्राएं नए नियम का पालन नहीं कर रही हैं उन्हें कॉलेज के बाहर खड़ा कर दिया जाता है. जिसकी वजह से वह क्लास नहीं कर पा रही हैं.

दरअसल छात्राओं की कुर्ती की लंबाई नापने के लिए कॉलेज में महिला सुरक्षा गार्ड की व्यवस्था की गई है. वह छात्राओं के आईडी कार्ड की जांच करती हैं और उनकी कुर्तियां भी खींचती हैं. छात्राएं नए ड्रेस कोड नियम के खिलाफ सोमवार से प्रदर्शन करेंगी.
https://www.youtube.com/watch?v=W4lbZ8CGYfI
=>
LIVE TV