क्रम में सैनिटाइजेशन के लिए नगर निगम प्रशासन ने खरीदी दो वाटर स्प्रिंकलर मशीनें, पढ़े पूरी खबर

कोरोना वायरस ने सभी लोगों को परेशान कर रखा है। इसका खौफ भी नजर आने लगा है। इस महामारी के संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए कवायद भी जारी है। इसी क्रम में सैनिटाइजेशन के लिए नगर निगम प्रशासन ने दो वाटर स्प्रिंकलर मशीनें खरीदी है। इन मशीनों का उद्घाटन महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी ने हरी झंडी दिखाकर किया। उन्होंने अपनी निगरानी में अफसरों के साथ पुराने शहर में सैनिटाइजेशन भी कराया।

वॉॅटर स्प्रिंकलर मशीन की यह है खूबी

वॉॅटर स्प्रिंकलर मशीन मशीनें एनजीटी के दिशा-निर्देशों के मुताबिक वायु में धूल के कणों को समाप्त करने, पेड़ों की धुलाई करने और कीटनाशक का छिड़काव करने में भी उपयोगी हैं। महापौर ने कोतवाली से लोकनाथ चौराहा, मीरगंज, बताशा मंडी, गुड़ मंडी, ऊंचामंडी, सुलाकी चौराहा, बहादुरगंज, कोठापारचा डॉटपुल से रामबाग, चंद्रलोक चौराहा, रामभवन चौराहा, मुट्ठीगंज होते हुए ईसीसी कॉलेज, कटघर, कल्लू कचौड़ी चौराहा, हटिया चौराहा, मोती पार्क होते हुए मानसरोवर चौराहा, साउथ मलाका, हीवेट रोड, जानसेनगंज चौराहा से लीडर रोड होते हुए बड़े स्टेशन, नखास कोहना तक सैनिटाइजेशन कराया।

नगर निगम के कर्मियों को पीपीई किट वितरित

वहीं, निगम परिसर में कर्मचारियों को फेस शील्ड और 300 पीपीई किट वितरित की गई। इस मौके पर नगर आयुक्त रवि रंजन, मुख्य अभियंता सतीश कुमार, अधिशासी अभियंता पुरुषोत्तम कुमार, अवर अभियंता सुरेंद्रनाथ पांडेय, कर्मशाला फोरमैन वीरेंद्र पांडेय, सफाई निरीक्षक डीपी ङ्क्षसह और अश्विनी वर्मा, पार्षद अनूप मिश्र, कुसुमलता गुप्त, मनोज श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

जांच कैंप की मांग नहीं हो रही पूरी

वर्कशाप और बस अड्डा परिसरों में कोरोना जांच कैंप लगाने की रोडवेज कर्मियों की मांग पूरी होती नहीं दिख रही है। क्योंकि स्वास्थ्य महकमे ने हाथ खड़े कर दिए हैं। इसके पीछे स्टाफ की कमी को वजह बताया जा रहा है।

दो पॉजिटिव मरीज मिले तो हरकत में आए रोडवेज अफसर

दो कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद रोडवेज प्रशासन हरकत में आया। राजापुर स्थित लीडर रोड डिपो, प्रयाग डिपो व जीरो रोड डिपो वर्कशॉप में सैनिटाइजेशन हुआ और सफाई कराई गई। अधिकारियों के चैंबर और अन्य कक्षों के साथ बाड़े में खड़ी बसों को भी सैनिटाइज किया गया। लीडर रोड डिपो के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक आरएस पांडेय और जीरो रोड डिपो में कार्यरत एक चालक पिछले दिनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। एआरएम लीडर रोड का कार्यालय वर्कशॉप में ही हैं।

प्रयागराज परिक्षेत्र के क्षेत्रीय प्रबंधक ने कहा

ऐसे में वर्कशॉप के 40 कर्मचारियों का भी स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया। क्षेत्रीय प्रबंधक प्रयागराज परिक्षेत्र टीकेएस बिसेन के मुताबिक वर्कशॉप में एहतिहयान सैनिटाइजेशन और फॉङ्क्षगग कराया गया है। अब तक डेढ़-दो सौ कर्मचारियों ने सैंपल दिए हैं, जिनकी रिपोर्ट आनी है।

=>
LIVE TV