कोरोना संकट के बीच आई एक अच्छी खबर फर्नीचर कारोबार की हो रही है जबरदस्त बिक्री

कोरोना संकट के बीच वर्क फ्रॉम होम कल्चर ने कई कारोबार के लिए अच्छे दिन ला दिए हैं. फेसमास्क, सैनिटाइजर, वैक्यूम क्लीनर आदि की तो जबरदस्त बिक्री हो ही रही है, इस बीच फर्नीचर कारोबार में बहुत अच्छी बढ़त देखी जा रही है.

टेबल-चेयर की जबरदस्त मांग

वर्क फ्रॉम होम, बच्चों की घर में ही ऑनलाइन क्लास आदि जरूरतों की वजह से स्टडी/कंप्यूटर टेबल, ऑफिस चेयर आदि की जबरदस्त मांग है. फर्नीचर ब्रांड पेपरफ्राई के को-फाउंडर आशीष शाह का तो दावा है कि पिछले साल जून के मुकाबले इस साल जून में टेबल और चेयर की मांग क्रमश: 175 फीसदी और 135 फीसदी बढ़ गई है.

गोदरेज इंटीरियो के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट सुबोध मेहता बताते हैं, ‘ऑफिस फर्नीचर की बिक्री में 15 फीसदी का इजाफा हुआ है. ज्यादातर लोग अब वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं, दफ्तरों में बहुत सीमित लोग जा रहे हैं. इसलिए घर में एक समुचित वर्क स्टेशन रखना लोगों की जरूरत हो गया है.’

सुधार का माहौल

रिटेलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया की हाल की एक रिपोर्ट के अनुसार, फर्नीचर इंडस्ट्री में सुधार की हवा दिख रही है. गौरतलब है कि भारत के करीब 30 अरब डॉलर के फर्नीचर कारोबार का 90 फीसदी हिस्सा असंगठित क्षेत्र में है. कोरोना लॉकडाउन की वजह से बहुत से कारपेंटर बेरोजगार हो गए. लेकिन संगठित क्षेत्र के कारोबार में अच्छी बढ़त आ रही है.

आशीष शाह ने कहा, ‘पिछले हफ्ते हमने कोरोना पूर्व के कारोबार का करीब 80 से 85 फीसदी हिस्सा हासिल कर लिया था. अब जनवरी के मुकाबले हमारी बिक्री 90 से 95 फीसदी तक पहुंच गई है.’

ऑनलाइन बिक्री भी बढ़ी

सबसे ज्यादा बिक्री टेबल और चेयर की हो रही है. इसके अलावा लोग डाइनिंग टेबल और सोफा भी खरीद रहे हैं. इस खरीद का बड़ा हिस्स ऑनलाइन भी हो रहा है. मेहता ने कहा कि पिछले एक महीने में ऑनलाइन बिक्री 40 फीसदी बढ़ गई है.

शाह का कहना है कि साल 2025 तक भारत के कुल फर्नीचर बाजार में संगठित क्षेत्र का हिस्सा बढ़कर 20 से 22 फीसदी हो जाएगा. लोगों की जरूरतों को देखे हुए गोदरेज इंटीरियो कई अनूठे उत्पाद लेकर आ रही है जिससे वर्क फ्रॉम होम आसान हो सके. इनमें ऐसे सोफा और बेड शामिल हैं जिनमें लैपटॉप रखने का प्लेटफॉर्म और वर्क फ्रॉम होम की कई सुविधाएं शामिल हैं.

=>
LIVE TV