कर्वी थानांतर्गत गांव में प्रेमिका का गला रेतने के बाद प्रेमी ने पेड़ पर फांसी लगाकर दी जान….

कर्वी थानांतर्गत गांव में रविवार की रात प्रेमिका का गला रेतने के बाद प्रेमी ने पेड़ पर फांसी लगाकर जान दे दी। वहीं प्रेमिका ने खून से कागज पर अपने कातिल प्रेमी का नाम लिखकर दम तोड़ दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना की छानबीन और हत्या की वजह का पता लगाना शुरू किया है। वहीं घटना को लेकर गांव और क्षेत्र में सनसनी का माहौल बना हुआ है।

कर्वी थाने के छिपनी बाहरखेड़ा गांव में सुबह अचानक लोग उस समय सन्न रह गए, जब युवती का रक्तरंजित शव घर और कुछ दूरी पर पेड़ पर युवक फांसी पर लटका मिला। गांव आई पुलिस ने छानबीन शुरू की तो पता चला अजय रैदास उर्फ पप्पू का पड़ोस में रहने वाली नीलम से कई साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों अक्सर छिप कर गांव के बाहर मिलते थे और अजय रात में उसके घर के बाहर भी बुलाने आ जाता था। इस बात की जानकारी गांव के लोगों को भी हो चुकी थी।

पुलिस की जांच में सामने आया है कि रविवार की रात करीब डेढ़ बजे नीलम के घर के बाहर अजय आया था। उसके बुलाने पर नीलम घर से बाहर आ गई थी, इस बीच बातों बातों में दोनों के बीच बहस शुरू हो गई। नाराज अजय ने चाकू निकाल कर नीलम की गर्दन पर ताबड़तोड़ वार शुरू कर दिए, वह चीखते चिल्लाते हुए घर के अंदर भागी। इस बीच अजय भी वहां से निकल गया। घर के अंदर पहुंचते ही खून से लथपथ नीलम जमीन पर गिर पड़ी तो घर वालों में अफरा तफरी मच गई। घर वालों ने पूछने की कोशिश की लेकिन गले की नस कट जाने की वजह से वह बोल नहीं पा रही थी। उसने कागज पर खून से अजय का नाम लिखा और बेहोश हो गई। घर वाले नीलम को जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां उसकी मौत हो गई।

गांव में घटना की जानकारी होते ही सनसनी फैल गई, इस बीच कुछ दूरी गांव वालों ने पेड़ पर अजय का शव फांसी पर लटका देखा। ग्रामीणों की सूचना पर गांव पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरू की। पुलिस को अजय की जेब से सुसाइड नोट मिला, जिसमें उसने नीलम से चार पांच वर्षों से प्रेम संबंधों की बात लिखी थी। कोतवाल पंकज पांडेय के मुताबिक प्रेमिका की हत्या के बाद प्रेमी ने साड़ी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। उसकी जेब से पत्र बरामद हुआ है, जिसमें युवती से प्रेम-संबंधों का जिक्र है। एसपी अंकित मित्तल व एएसपी प्रकाश स्वरूप पांडेय भी मौके पर पहुंचे और गांव वालों से पूछताछ की।

=>
LIVE TV