उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में धारदार हथियार से गला रेतकर युवक की कर दी हत्या

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में धारदार हथियार से गला रेतकर युवक की हत्या कर दी गई। भोर हत्या की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। अपर पुलिस अधीक्षक व क्षेत्राधिकारी ने घटनास्थल की गहनता से जांच की है। विधि विज्ञान प्रयोगशाला व डाग स्क्वॉड की टीमों ने मौके पर जा कर साक्ष्य जुटाए। पुलिस मृतक के साथी व भाई से पूछताछ कर रही है। 

ये है पूरा मामला 

मामला मोहम्मदपुर खाला थाना क्षेत्र के नहरवाल मजरे बिंदौरा धरथरिया गांव का है। यहां ननकन्नू (33) पुत्र नरायन व छतवरा निवासी जगदीश पुत्र झगरू से घनिष्ठ मित्रता थी। कई वर्षों से गांव के अंदर झोपड़ी में रहता था। ननकन्नू शादी विवाह आदि समारोह में नृत्य करने व साथी जगदीश ढोलक बजाने का कार्य करता था। आंखों की दिक्कत के चलते जगदीश देख नहीं पता था। रविवार की रात्रि दोनों एक साथ चारपाई पर सो रहे थे। देर रात्रि ननकन्नू की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी। चारपाई पर साथ में सो रहे जगदीश की जब नींद खुली तो साथी ननकन्नू का शरीर खून से लथपथ था। यह देख जगदीश ने शोर मचना शुरू किया, तो आस-पास के लोग एकत्र हो गए। खेत बचा रहे मृतक के भाई रामदीन ने घटना की सूचना सोमवार की भोर करीब चार बजे थानाध्यक्ष व चौकी इंचार्ज को दी। घटनास्थल पर पहुंचे थानाध्यक्ष मनोज शर्मा व छेदा चौकी इंचार्ज अमर बहादुर ने हत्या की जानकारी क्षेत्राधिकारी व पुलिस अधीक्षक को दी। गांव के बाहर नदी का पानी से होकर पहुंचे अपर पुलिस अधीक्षक आरएस गौतम व क्षेत्राधिकारी योगेंद्र कुमार ने मृतक के साथी व भाई से पूछताछ की। बाइक से गांव पहुंच विधि विज्ञान प्रयोगशाला व डाग स्क्वॉड की टीम ने साक्ष्य जुटाए है। 

क्या कहती है पुलिस ? 

थाना प्रभारी मनोज शर्मा ने बताया कि हत्या की वजह क्या रही, हत्या किस मकसद से की गई आदि पहलूओं पर जांच कर रही? है। शीध्र ही हत्या का खुलासा किया जाएगा।

छह लाख में बेची ढाई बीधे भूमि 

शादी के कुछ दिन बाद पत्नी ने मृतक ननकन्नू से रिश्ता खत्म कर लिया था। जिसके बाद से ननकन्नू साथी जगदीश के साथ गांव में रहता था। वहीं पत्नी के न होने के चलते जगदीश ने बेटी रेखा की शादी फरुखाबाद जिले के राजपुर गांव निवासी अर्जुन के साथ कर दी। बेटी दमाद दोनों एक साथ छतवरा में रहते थे। कुछ दिन पूर्व ननकन्नू ने कुल ढाई बीधे भूमि छतवरा निवासी राम मिलन के हाथों छह लाख में बेची दी, जिसके चार लाख रुपये ननकन्नू को मिल गए थे और दो लाख रुपये शेष अब भी शेष है। मिली रकम से उसने साथी जगदीश के दामाद अर्जुन को बाइक खरीद कर दी, और कुछ रकम से घर बनाने के लिए ईंट खरीदी। 

=>
LIVE TV