जड़ी बूटी से सजा उत्तरायणी का मेला, कई तरह की औषधि उपलब्ध…

REPOTER-HARISH SINGH

बागेश्वर – बागेश्वर मे चल रहे उत्तरायणी मेला मे प्राकतिक जड़ी बूटी का कारोबार भी बड़ी मात्रा मे चल रहा है। भोटिया जनजाती के लोगों द्वारा हिमालयी इलाकों से लायी गई चमत्कारी गुण औषधी की जड़ी बूटी मे मुख्य रूप से गंदेडी, जम्बू, हीग ,कालाजीरा, तिमूर, चुटकी मलेठी की मॉग काफि दिख रही है।

उत्तरायणी का मेला
आधुनिक युग मे भी जडी बूटी लेने वालो की कमी नही है। ।
जडी बूटी के साथ मुन्सयारी का राजमा की मॉग भी काफि मात्रा मे मेले मे दिख रही है। लोग हिमालयी क्षेत्रो मे उगाये जाने वाले राजमा को अधिक पंसन्द कर रहे है। राजमा के साथ दन,चुटके , थुलमे भी बडी मात्रा मे मेले के आकषण का केन्द्र बने हुये है।

माघ मेले की रौनक को बर्बाद कर रहा प्रशासन, शराब पी कर ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी
धारचूला, मुनस्यारी से आये व्यापारी अपने अपने सामान के गुण धर्मो को बता रहे है। साथ ही व्यापारीयो का कहना है। कि हम विगत 20 सालो से इस उतरायणी के मेले मे व्यापार करते आ रहे है। समय के साथ हमारे सामान की खपथ कम हो रही है। बस दाल रोटी का जुगाड़ हो जा रहा है।

=>
LIVE TV