आतंकी संगठन अलकायदा नेटवर्क के भंडाफोड़ मामले में सियासत हुई तेज, भाजपा ने बोला राज्‍य सरकार पर हमला

एनआईए (National Investigation Agency, NIA) ने देश में आतंकी संगठन अलकायदा (Al Qaeda) द्वारा नेटवर्क बनाने की कोशिशों का भंडाफोड़ किया है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) और केरल में अलकायदा के नौ सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इस घटना के सामने आने के बाद सियासी हमलों का दौर भी शुरू हो गया है। केरल भाजपा ने राज्‍य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि वह आतंकी गतिविधियों पर नकेल कसने में विफल रही है।

केरल भाजपा के अध्‍यक्ष के. सुरेंदरन (K. Surendran) ने शनिवार को कहा कि राज्‍य का आतंकवाद रोधी दस्ता गहरी नींद में है। सरकारें भी इस आतंकी खतरे से निपटने में विफल रही हैं। पहले भी राज्य से आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया था लेकिन अब एर्नाकुलम में जो हुआ वह ताजा घटना है। पता चला है कि पुलिस में एक व्हाट्सएप ग्रुप था जो आतंकी गतिविधियों में शामिल लोगों की मदद करता था। एक पुलिस अधिकारी जिसे ई-मेल लीक करने के आरोप में निलंबित किया गया था… उसे राज्‍य सरकार ने बहाल कर दिया। यह हैरान करने वाले खुलासे हैं…

राज्‍य भाजपा अध्‍यक्ष ने कहा कि केरल आज एक ऐसे परिदृश्य का सामना कर रहा है जिसमें राज्य मंत्रिमंडल के भीतर आतंक की मौजूदगी हो गई है। राज्य के मंत्री केटी जलील (KT Jaleel) प्रतिबंधित संगठन सिमी का एक पूर्व सदस्य है। यह तो केवल केरल में ही हो सकता है। उससे पहले से ही दो राष्ट्रीय एजेंसियों द्वारा पूछताछ की जा चुकी है। मौजूदा वक्‍त में आतंकवाद के मसले पर वह घिरा हुआ है। हम तब तक अपना विरोध जारी रखेंगे जब तक कि केटी जलील को बाहर का रास्‍ता नहीं दिखा दिया जाता।

वहीं एनआइए प्रवक्‍ता ने बताया कि केंद्रीय खुफिया एजेंसियों से मिली जानकारी के आधार पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने राज्य पुलिस के साथ मिलकर 18-19 सितंबर की दरमियानी रात केरल के एर्नाकुलम और पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में छापेमारी की जिसके बाद नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया। मुर्शिद हसन, याकूब बिस्वास, मुसरफ हुसैन को एर्णाकुलम से जबकि नजमुस साकिब, अबू सुफियान, मैनुल मंडल, लियू यिन अहमद, अल मामून कमाल और अतितुर रहमान को मुर्शिदाबाद से पकड़ा गया। केरल से गिरफ्तार हसन गिरोह का सरगना है और मूल रूप से बंगाल का रहने वाला वाला है। 

=>
LIVE TV