आंधी तूफान के साथ शहर से लेकर गांव तक हुई झमाझम बारिश से आवागमन और बिजली बाधित

रविवार की सुबह आंधी तूफान के साथ शहर से लेकर गांव तक झमाझम बारिश हुई। इस दौरान पेड़ व टहनियां टूट कर मार्गों पर गिरने से आवागमन बाधित हुआ। वहीं घर पर भी पेड़ गिरने से मकान क्षतिग्रस्त हो गया है। हालांकि दिन चढ़ने के साथ ही चटख धूप खिली तो तापमान बढ़ने से उमस ने पांव पसार लिया है। गत शनिवार की शाम तेज बारिश व तूफानी हवा से अहिरौली थानाक्षेत्र के यादवनगर चौराहे पर एक विशाल पाकड़ का पेड़ गिर गया। इससे घंटों आवागमन बाधित रहा। अकबरपुर कोतवाली क्षेत्र के राबीबहाउद्दीनपुर गांव में आरती उपाध्याय घर पर गिरा पेड़। गनीमत रही इसमें कोई हताहत नहीं हुआ है। पुलिस और वन विभाग की टीम आवागमन सुचारू करने में लगातार मशक्कत करती रही। बिजली विभाग के कर्मी कल से आपूर्ति बहाल करने में जुटे हैं। गली-मुहल्ले और प्रमुख संपर्क मार्ग जलभराव से जूझ रहे हैं। वहीं किसानों की फसलें जलमग्न हो गई है। जिले का तापमान अधिकतम 34 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम 26 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग ने आगामी सप्ताह में बादल छाए रहने और बारिश होने का अनुमान लगाया है।

——————

-कच्चा घर गिरा, दबी गृहस्थी-

भीटी : अहिरौली थानाक्षेत्र के गांव मिझौड़ा निवासी सजरुननिशा का कच्चा मकान रविवार को बरसात के चलते जमींदोज हो गया। मलवे में दबकर खाद्यान्न समेत हजारों की संपत्ति नष्ट हो गयी। उनका एक पुत्र कलीम लॉकडाउन के बाद मुंबई से घर आकर अपनी मां के साथ रह रहा है। उसके पास कोई स्थाई रोजगार न होने से पैसों की किल्लत भी है। प्रशासन की तरफ से कोई मदद नहीं मिल सकी है। पड़ोसियों ने मलबे से कुछ सामान बाहर निकाला व खाद्यान्न आदि की मदद की। एसडीएम अनिल कुमार सिंह ने बताया लेखपाल को क्षति आंकलन करने भेजा है। पीड़ित को सरकारी सहायता दी जाएगी। कोटेदार को राशन व ग्राम प्रधान को अन्य जरूरी सामान मुहैया कराने का निर्देश दिया गया है।

=>
LIVE TV