आंतकी हमले के बाद सरकार के साथ खड़ा हुआ पूरा विपक्ष, असदुद्दीन ओवैसी ने दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली। पुलवामा में आंतकी हमले से देश की राजनीति में बड़ा परिवर्तन देखने को मिला है। कांग्रेस समेत सभी विपक्षी पार्टियां पड़ोसी देश पाकिस्तान को कड़ा जवाब देने के लिए सरकार के साथ खड़ी हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बाद कट्टरपंथी नेता माने जाने वाले असदुद्दीन ओवैसी ने इस हमले की कड़ी निंदा कर शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की है।

उन्होंने आंतकी हमले की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा है कि सुरक्षाबलों पर यह हमला किसी कत्लेआम से कम नहीं है। उन्होंने हमले में मारे गए जवानों के पीड़ित परिवारों को श्रद्धांजलि दी है।

ओवैसी ने कहा, ‘पुलवामा में जो कुछ हुआ है वह किसी कत्लेआम से कम नहीं है और मैं इसकी घोर निंदा करता हूं। इस हमले में मारे गए बहादुर जवानों के परिवारों के प्रति मैं श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।’ पुलवामा हमले के बाद देश में गुस्से का माहौल है लोग पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

इससे पहले राहुल गांधी ने कहा था कि आंतकवादी घटनाओं के ज़रिए हमें बांटने की कोशिश की जा रही है लेकिन हम किसी सूरत में बंट नहीं सकते। विपक्ष जवानों और सरकार के साथ है। कांग्रेस अध्यक्ष ने संकेत दे दिया है कि वह इस दिशा में सरकार की ओर से उठाए जाने वाले कदमों का समर्थन करेंगे।

आडवाणी ने की पूरे देश से अपील कहा- सभी को करना चाहिए सरकार का समर्थन

उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमले में शहीद 37 जवानों को नमन करते हुए कहा कि जिन्होंने देश की सेवा करते हुए अपने प्राण न्यौछावर किये हैं, दुख की इस घड़ी में मेरी और हर भारतीय की संवेदनाएं शहीदों के परिवार के साथ है। उन्होंने कहा कि हमारे सुरक्षा बलों को पूर्ण स्वतंत्रता दे दी गई है।

=>
LIVE TV