अवैध संबंधों में बाधक बनी मां की हत्या के मामले में पुलिस ने बेटे और बहू को किया गिरफ्तार

उत्‍तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के जवां क्षेत्र के गांव छलेसर में दो दिन पहले अवैध संबंधों में बाधक बनी मां की हत्या के मामले में पुलिस ने उसके बेटे व बहू को गिरफ्तार कर लिया है। बेटे देवप्रकाश के छोटे भाई की पत्नी के साथ संबंध थे, जिसका मां विरोध करती थी। इसीलिए दोनों ने मिलकर हत्या की योजना बनाई। बहू ने खाने में नशे की दवा मिलाकर दी थी और बेटे ने गला काट दिया। सीओ ने बताया कि थाना प्रभारी अभय शर्मा की टीम ने देवप्रकाश को कासिमपुर मोड़ छेरत वन चेतना केंद्र के सामने से पकड़ा है, जबकि शीलाेको पिलोना बॉर्डर से गिरफ्तार किया गया।

बेटे ने  ऐसे की  मां की हत्‍या
जवां के गांव छलेसर निवासी स्व. बलवंत ङ्क्षसह की पत्नी लोंगश्री (60) के तीन पुत्रों में बड़ा बेटा चरन ङ्क्षसह अपने परिवार के साथ दिल्ली में रहता है। मझले बेटे देवप्रकाश की शादी नहीं हुई। छोटा बेटा ओमपाल शादीशुदा है। मंगलवार को ओमपाल अपनी बहन के घर डिबाई चला गया। इसी रात को वेदप्रकाश व शीला ने लोंगश्री की हत्या कर दी। वेदप्रकाश फरार था। शीला ने खुद को बचाने के लिए शोर मचा दिया कि देवप्रकाश हत्या कर भाग गया है। सीओ अनिल समानिया ने बताया कि थाना प्रभारी अभय शर्मा की टीम ने देवप्रकाश को कासिमपुर मोड़ छेरत वन चेतना केंद्र के सामने से पकड़ा है, जबकि शीला को पिलोना बॉर्डर से गिरफ्तार किया गया।

मां अवैध संबंध का विरोध करती थी

देवप्रकाश ने बताया कि शीला के साथ अवैध संबंध थे। इसका मां विरोध करती थी, जिसे लेकर शीला और लोंगश्री में झगड़े होते थे। तभी दोनों ने योजना बनाई। शीला ने वेदप्रकाश को पांच रुपये देकर नशे की दवा मंगवाई। फिर रात में खाने में मिलाकर मां को नशे की दवा खिला दी। इसके बाद वेदप्रकाश ने रात ढाई बजे छुरे से मां का गला काट दिया। वेदप्रकाश की निशानदेही पर पुलिस ने छुरा बरामद कर लिया।

=>
LIVE TV