अमेरिका : 7 दशक में पहली बार इस महिला को मिलेगी सजा-ए-मौत, लगाया जाएगा इंजेक्शन और…

अमेरिका में तकरीबन 7 दशक के बाद पहली बार किसी महिला को मौत की सजा दी गयी है। महिला को गर्भवती की हत्या करने और उसका पेट काटकर बच्चे का अपहरण करने का दोषी पाया गया है। जिसके बाद कोर्ट के आदेश पर उसे आगामी 8 दिसंबर को जानलेवा इंजेक्शन लगाकर मृत्युदंड दिया जाएगा।

घटना की दोषी लिसा मांटगोमेरी ने इस दर्दनाक हत्याकांड को घर में घुसकर अंजाम दिया। वह 2004 में एक पालतू कुत्ता खरीदने के बहाने 23 वर्षीय बॉबी स्टीनेट के मिसौरी स्थित घर पर पहुंची थी। यहां उन्होंने 36 साल की मांटोगोमैरी ने सबसे पहले 8 माह की गर्भवती का स्टीनेट का रस्सी से गला घोंटकर दम निकाला फिर उसका पेट फाड़ बच्चे को लेकर फरार हो गयी। हालांकि पकड़ने जाने पर उन्होंने अपराध को स्वीकार कर लिया। पकड़े जाने के बाद अदालत के समक्ष उन्होंने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। 2008 में जज ने उन्हें अपहरण और हत्या का दोषी ठहराया। आपको बता दें कि मामले की सुनवाई के दौरान दोषी के वकीलों ने कोर्ट में उसके बीमार होने का तर्क भी दिया। लेकिन जज की ओर से यह खारिज कर दिया गया।

3 साल पहले ही बहार हुए मृत्युदंड का सजा
अमेरिका में तकरीबन 20 साल की रोक के बाद 3 माह पहले ही मृत्युदंड की सजा फिर से बहाल हुई है। जिसके बाद फिलहाल अब मांटगोमैरी को यह सजा मिलेगी। इससे पहले अमेरिका में 1953 में आखिरी बार किसी महिला को मौत की सजा दी गयी थी।

=>
LIVE TV