अमेरिका हटा सकता है वियतनाम पर लगे प्रतिबंध

अमेरिकावाशिंगटन| अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस बात की पुष्टि की है कि वियतनाम को हथियार बेचे जाने पर लगे प्रतिबंध को आंशिक या पूर्णरूप से हटाने पर विचार हो रहा है। यह प्रतिबंध तीन दशकों से लगा हुआ है।

समाचार एजेंसी एफे न्यूज के अनुसार ओबामा ने गुरुवार को कहा कि अगले सप्ताह जब वह वियतनाम का दौरा करेंगे, तो वियतनामी अधिकारियों से इस मुद्दे पर चर्चा करेंगे।

अमेरिका कर रहा है विचार

ओबामा के उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बेन रोड्स ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ” वियतनाम में राष्ट्रपतियों की बैठक में हम इस पर चर्चा करेंगे। दौरे की तैयारी के क्रम में हम इस तरह का कुछ आकलन कर रहे हैं।”

अमेरिका ने वियतनाम को हथियार बेचने पर 1984 से प्रतिबंध लगाया हुआ है। 2014 में इसमें थोड़ी ढील दी गई थी। हनोई के साथ मेलमिलाप होने और चीन की सैन्य शक्ति की चिंता के मद्देनजर ओबामा अब प्रतिबंध पूर्णत: हटाने या वियतनाम को बेचे जा सकने वाले हथियारों की सूची में विस्तार करने पर विचार कर रहे हैं।

रोड्स ने कहा, “हम लोगों ने इस मुद्दे पर अंतिम निर्णय नहीं किया है।”

हालांकि, उन्होंने स्वीकार कि विगत सप्ताहों मेंोइट हाउस ने इस मुद्दे पर कांग्रेस के कई नेताओं के साथ बातचीत की है।

ओबामा 23 मई को अपने वियतनाम दौरे के दौरान इस मसले पर वियतनाम के राष्ट्रपति ट्रान दाई कुआंग, प्रधानमंत्री गुएन जुआन फुक और वियतनाम कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव गुएन फु ट्रांग के साथ चर्चा करेंगे।

रोड्स ने कहा कि फैसला करते समय अमेरिका यह विचार करेगा कि ‘संबंध कैसे विकसित हो रहा है, न केवल सुरक्षा सहयोग के मामले में, बल्कि वियतनाम में मानवाधिकार के समर्थन के प्रति प्रतिबद्धता के संबंध में भी।’

वियतनाम के साथ लंबी लड़ाई (1955-75) खत्म होने के बाद से अमेरिका ने उसे हथियार नहीं बेचा है। हालांकि, वियतनाम पर औपचारिक हथियार प्रतिबंध राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन ने 1984 में लगाया था।

दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध 1995 में बहाल हुआ था और मानवाधिकार की स्थिति पर चिंता के बावजूद द्विपक्षीय वार्ता को आगे बढ़ाने के लिए ओबामा ने वियतनाम के साथ वही दर्शन अपनाने की कोशिश की है जिसे उन्होंने चीन और म्यांमार के लिए अपनाया है।

=>
LIVE TV