अगर राजीव गांधी दोबारा प्रधानमंत्री बनते तो श्री राम मंदिर बन जाता

Subramanian-Swamy_56062bb37b154एजेंसी/ मुंबई : भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की सराहना करते हुए कहा कि कांग्रेस नेता राजीव गांधी यदि दुबारा प्रधानमंत्री निर्वाचित होते तो श्री राम मंदिर का निर्माण हो गया होता। दरअसल सुब्रह्मण्यम स्वामी अयोध्या में श्री राम मंदिर क्यों और कैसे विषय पर आयोजित की गई संगोष्ठी में उपस्थितों को संबोधित कर रहे थे।

इस दौरान उन्होंने कहा कि वे राजीव गांधी को अच्छी तरह से जानते थे। भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी दुबारा प्रधानमंत्री बनते तो श्री राम मंदिर जरूर बनता। जहां पर विवादास्पद बाबरी मस्जिद थी वहीं पर मंदिर का निर्माण हो जाता। आखिर उन्होंने श्री राम मंदिर का ताला खुलवा दिया और श्री राम मंदिर शिलान्यास कार्यक्रम को स्वीकृति दे दी थी।

भारतीय जनता पार्टी द्वारा कहा गया कि राजीव गांधी ने रामराज्य की अवधारणा को लागू करना प्रारंभ कर दिया था मगर उनके असामयिक निधन के बाद परिस्थितियां बदलने लगीं। सुब्रह्मण्यम स्वामी ने दावा किया और कहा कि इस मामले में शामिल मुस्लिम नेताओं से विभिन्न प्रस्तावों पर उन्होंने चर्चा की थी।

सुब्रह्मण्यम स्वामी ने कहा कि इस मामले में सर्वोच्च न्यायालय का फैसला अयोध्या में विवादित स्थल पर श्री राम मंदिर के निर्माण का मार्ग तय करेगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि विवादित स्थल श्री राम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ कर सकता है। निर्माण कार्य मौजूदा साल के अंत में प्रारंभ हो सकता है। 

=>
LIVE TV