Friday , April 27 2018

आतंकी पाकिस्तान ने किया इंसाफ, सूली पर लटकेगा जैनब का गुनहगार

लाहौर। पाकिस्तान की एक अदालत ने शनिवार को पिछले माह छह वर्ष की जैनब अमीन के साथ कुकर्म और हत्या के मामले में 24 वर्षीय एक युवक को मौत की चार सजाएं सुनाई हैं। न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, इस फैसले की घोषणा लाहौर सेंट्रल जेल में की गई।

अदालत ने इमरान अली को जैनब को अगवा करने, कुकर्म के बाद उसकी हत्या करने और आतंक फैलाने का दोषी करार देते हुए सजाएं सुनाई।

यहां एक लाख रुपए किलो बिक रहा मीट, दूध की कीमत 80 हजार

जैनब अमीन

इसके अलावा दोषी को बच्ची के साथ अप्राकृतिक यौनाचार (कुकर्म) और शव को कूड़े में छुपाने के लिए आजीवन कारावास व 20 लाख पाकिस्तानी रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है।

रिपोर्ट के अनुसार, अभियोजक एहतेशाम कादिर ने कहा कि आरोपी को खुद को बचाने के पूरे मौके दिए गए, लेकिन उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया।

मासूम जैनब चार जनवरी को लापता हो गई थी। उसका शव नौ जनवरी को कासुर शहर से बरामद होने के बाद पूरे देश में लोगों ने प्रदर्शन कर आक्रोश प्रकट किया था।

खबरों के मुताबिक़ सरकारी वकील एहतेशाम कादिर ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आरोपी को अपना बचाव करने के लिए सभी मौके दिये गये, लेकिन उसने अपने अपराध को स्वीकार किया।

7.5 की तीव्रता से कांप गया मेक्सिको, शक्तिशाली भूकंप के झटकों के बाद…

दोषी इमरान के खिलाफ अब ऊपरी अदालत में अपील के लिए 15 दिन का वक्त है। मुकदमे की कार्यवाही को देखने के लिए मासूम जैनब के पिता हाजी मुहम्मद अमीन भी कोर्ट लखपत पहुंचे थे। इस दौरान सेंट्रल जेल के पास सुरक्षा के जबर्दस्त इंतजाम किये गये थे।

बता दें कि पिछले महीने में पाकिस्तान में 6 साल की मासूम जैनब की रेप और हत्या के बाद अप्रत्याशित प्रतिक्रिया देखने को मिली।

पाकिस्तान की आम जनता में इस रेप कांड के खिलाफ जबर्दस्त गुस्सा देखने को मिला था। पंजाब प्रांत में पुलिस के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन हुए।

बता दें पाकिस्तान में इस रेप के खिलाफ उबला लोगों का गुस्सा भारत के निर्भया कांड जैसा ही था। पाकिस्तान की जनता ने केस के लिए पुलिस की निष्क्रियता को जिम्मेदार ठहराया और कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन किये।

कसूर शहर के उपायुक्त कार्यालय पर गुस्सैल भीड़ ने डंडों और पत्थरों के साथ धावा बोल दिया, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

यह घटना पिछले एक साल में शहर में दो किलोमीटर के दायरे में होने वाली 12वीं घटना थी। इस लिहाज से भी लोग भड़के हुए थे।

जैनब 4 जनवरी को रोड कोट इलाके में अपने घर के पास ही ट्यूशन गई थी, जिसके बाद उसे अपहृत कर लिया गया था।

वहीं कुछ घटना के कुछ ही दिनों के बाद एक वीडियो फुटेज मिला, जिसमें उनकी बेटी को एक अनजान शख्स के साथ देखा गया। यह वीडियो पीरोवाला रोड का था जो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ।

बाद में 9 जनवरी को एक पुलिस कॉन्सटेबल ने बच्ची के शव को कूड़े के ढेर से बरामद किया और पुलिस के दावे के अनुसार 23 जनवरी को जैनब के कातिल को हिरासत में ले लिया।

देखें वीडियो :-

=>
LIVE TV