PM मोदी ने रोजगार के मौके बनाने पर दिया जोर, सर्वोन्मुखी विकास में जताया भरोसा

102537-429259-moodyडिब्रूगढ़ : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने और रोजगार सृजन के लिए प्राकृतिक संसाधनों के मूल्यवर्धन और सहयोगी इकाइयां बनाने का आह्वान किया है ताकि आयात घटे और रोजगार के मौके पैदा हों।

मोदी ने यहां 10,000 करेाड़ रुपए के पेट्रोरसायान संयंत्र का उद्घाटन किया जो कच्चे तेल की रिफाइनरी में प्लास्टिक के लिए कच्चा माल और वैक्स बनाने वाली इकाई बनाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता पूर्वोत्तर का विकास करना है, क्योंकि वह देश के सर्वोन्मुखी विकास में भरोसा करती है।

उन्होंने राज्य के युवाओं को इन दो परियोजनाओं का लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया और कहा कि वे छोटी फैक्ट्रियां स्थापित करें जिससे देश के लिए मूल्यवृर्धन हो और संपत्ति सृजन हो।

मोदी ने कहा, ‘आज डिब्रूगढ़ में दो प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन किया जा रहा है। यह महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे प्राकृतिक संसाधनों में मूल्यवर्धन होगा और युवाओं के लिए रोजगार के कई मौके पैदा होंगे।’ ब्रह्मपुत्र कै्रकर एंड पॉलीमर लिमिटेड की परिकल्पना असम शांति प्रस्ताव के अंग के तौर पर की गई थी जिस पर समझौता तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी के कार्यकाल में हुआ था और इसकी बुनियाद 2007 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने रखी थी।

मोदी ने परियोजनाओं की परिकल्पना में देरी और फिर इसकी घोषणा एवं इसकी बुनियाद रखने तथा इसे पूरा करने में विलंब पर अफसोस जताते हुए कहा कि इससे लागत में बढ़ोतरी हुई है। उन्होंने कहा, ‘यदि परियोजना की स्थापना 25 साल पहले तत्कालीन प्रधानमंत्री कर देते तो मुझे इस परियोजना का उद्घाटन करने का मौका नहीं मिला होता।’

=>
LIVE TV