Tuesday , February 20 2018

फीफा एलओसी को दिग्गजों की अवहेलना पर बनर्जी ने लगाई फटकार

फीफा एलओसीकोलकाता। भारतीय फुटबॉल जगत के दिग्गज खिलाड़ी पी.के. बनर्जी ने शनिवार को फीफा की स्थानीय आयोजन समिति (एलओसी) को भारत के कई पूर्व खिलाड़ियों का सम्मान न करने पर लताड़ लगाई है। बनर्जी ने शनिवार को कहा कि फीफा एलओसी ने नई दिल्ली में फीफा अंडर-17 विश्व कप टूर्नामेंट के पहले मैच के आयोजन के दौरान श्याम थापा, प्रसून बनर्जी और सुभाष भौमिक जैसे पूर्व फुटबाल खिलाड़ियों को सम्मानित नहीं किया।

प्रतिबंध नहीं हटाया तो दूसरे देश के लिए खेलूंगा : श्रीसंत

अपने निवास स्थल पर एक संवाददाता सम्मेलन में बनर्जी ने कहा, “भारतीय फुटबाल जगत के लिए यह बड़े नुकसान की बात है। क्रिकेट में हम सभी दिग्गज खिलाड़ियों के बारे में जानते हैं, लेकिन फुटबाल खिलाड़ियों को नजरअंदाज किया जाता है। अगर इस प्रकार का ही रवैया रहा, तो किस प्रकार फुटबाल का विकास हो पाएगा।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बनर्जी सहित, आई. एम. विजयन, बाइचुंग भूटिया, सुनील छेत्री, भास्कर गांगुली और ओइनम बेमबेम देवी जैसे दिग्गज फुटबाल खिलाड़ियों को सम्मानित किया था।

बनर्जी ने एलओसी से प्रसून, श्याम, अरुण घोष, भौमिक, मोहम्मद हबीब और सुधीर करमाकर जैसे खिलाड़ियों को 28 अक्टूबर को फाइनल मैच के दौरान सम्मानित करने का आग्रह किया है।

न्यूजीलैंड के इस गेंदबाज को खतरा मानते हैं रोहित शर्मा, बताई दिलचस्प वजह

बनर्जी ने कहा, “मैं प्रसून के बारे में ही बात नहीं कर रहा हूं, लेकिन फुटबाल जगत में उनके योगदान के बारे में भी बात कर रहा हूं। मैं चाहता हूं कि भौमिक, हबीब, अरुण को भी सम्मानित किया जाए।”

बनर्जी ने यह भी कहा कि एलओसी का फाइनल मैच के टिकटों की बिक्री लॉटरी प्रारूप में करना शर्मनाक है।

=>
LIVE TV