Wednesday , October 18 2017

जापान में स्टील घोटाला: मोदी रफ्तार को लगा झटका, अब बुलेट ट्रेन डिरेल होने के डर में जिएगी सरकार!

जापानटोक्यो। जापान में कोबी स्टील लिमिटेड के फेक डेटा स्कैंडल ने भूकंप ला दिया है। वहां की स्टील निर्माता कंपनी ने बुलेट ट्रेनों में इस्तेमाल होने वाले जिन उत्पादों को बनाया वो जापान के मानकों के अनुसार घटिया निकले। लेकिन इसके बावजूद ट्रेनों से किसी भी तरह का खतरा न होने की बात कही गई है।

ऐसे में भारत के मुंबई से अहमदाबाद के बीच बुलेट ट्रेन प्रॉजेक्ट को नुकसान हो सकता है। 112 साल पुरानी दिग्गज स्टील कंपनी के सीईओ ने घटिया कल पुर्जों की सप्लाई के लिए माफी मांगी है।

कोबी ने न सिर्फ बुलेट ट्रेन बल्कि कार से लेकर डीवीडी तक जैसी चीजों के लिए घटिया कल-पुर्जों की आपूर्ति की है। इस घोटाले की वजह से कंपनी के मार्केट वैल्यू में एक तिहाई की तेज गिरावट आई है। जिससे कंपनी के बैठ जाने की शंका बढ़ गई है।

विश्व के तीसरे बड़े स्टील निर्माता

इस घोटाले के बारे में खुलासा रविवार को हुआ। जापान के तीसरे सबसे बड़े स्टील निर्माता ने स्वीकार किया कि उसने कुछ एल्युमिनियम और कॉपर के प्रॉडक्ट्स की ताकत और टिकाऊपन के बारे में झूठे दावे और फर्जी आंकड़े पेश किए थे।

कोबी स्टील लिमिटेड टोयोटा मोटर से लेकर जनरल मोटर्स जैसे दिग्गजों के लिए स्टील और जरूरी धातुओं की सप्लाई करती है। अब ये कंपनियां भी इस बात की जांच कर रही हैं कि कहीं संदिग्ध एल्युमिनियम की वजह से कारों, ट्रेनों और हवाई जहाज की सुरक्षा के साथ समझौता तो नहीं हुआ है।

कोबी स्टील ने कहा है कि 2 और उत्पाद भी प्रभावित हो सकते हैं और आगे चलकर कुछ और मामले भी सामने आ सकते हैं। हालांकि किसी प्रॉडक्ट को रिकॉल करने या सुरक्षा को लेकर चिंता उठने की कोई रिपोर्ट नहीं आई है।

=>
LIVE TV