जेट एयरवेज के विमान की करायी गयी इमरजेंसी लैडिंग, यात्रियों के नाक-मुंह से निकल रहा था खून

नई दिल्ली| मुंबई से जयपुर जा रहे जेट एयरवेज विमान की गुरुवार (20 सितंबर) को इमरजेंसी लैडिंग करानी पड़ी। जानकारी के मुताबिक, जेट एयरवेज की फ्लाइट 9W-697 की उस समय इमरजेंसी लैंडिंग करवानी पड़ी, जब टेकऑफ के दौरान क्रू केबिन प्रेशर को बरकरार रखने का स्विच दबाना भूल गया, जिसकी वजह से 166 में से 30 यात्रियों की नाक और कान से खून बहने लगा। यात्रियों की शिकायत के बाद आनन-फानन में जेट एयरवेज की मुंबई-जयपुर उड़ान को टेकऑफ के बाद मुंबई वापस उतारना पड़ा।

जेट एयरवेज के विमान की करायी गयी इमरजेंसी लैडिंग, यात्रियों के नाक-मुंह से निकल रहा था खून

बता दें कि जेट एयरेवज की बी737 की 9डब्ल्यू 697 फ्लाइट मुंबई से जयपुर के लिए रवाना गई थी। इस दौरान केबिन क्रू उस स्विच को ऑन करना भूल गया, जिससे विमान के अंदर ऑक्सीजन मेंटेंन किया जाता है। ऑक्सीजन की कमी के कारण यह घटना हुई। हादसे के बाद नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने मामाले की जांच आदेश देने के साथ ही क्रू सदसयों को रोस्टर से हटा दिया है।

घटना के बाद जेट एयरवेद की तरफ से बयान जारी किया है। एयरलाइन का कहना है कि घटना के बाद विमान को वापस मुंबई लाया गया। इस दौरान फ्लाइट में 166 यात्री और 5 क्रू सदस्य मौजूद थे। सभी यात्रियों को सुरक्षित विमान से उतारा गया। उन यात्रियों को प्राथमिक उपचार दिया गया जिन्होंने नाक-कान से खून निकलने की शिकायत की थी।
यह भी पढ़ें: व्यापम मामले में दिग्विजय ने दायर किया 27000 पन्नों का परिवाद, 22 सितम्बर को होगी सुनवाई
जेट एयरवेज के प्रवक्ता ने कहा कि कॉकपिट क्रू से सभी निर्धारित ड्यूटी को जांच पूरी होने तक वापस ले लिया गया है। सभी यात्रियों के लिए एयरलाइन दूसरी फ्लाइट का इंतजाम किया जा रहा है।

 

=>
LIVE TV