गुरूवार , जून 21 2018

ऐसे मरीजों के लिए जहर है ब्लड बैंक वाला खून, गलती से भी चढ़ाया तो मौत पक्की

नई दिल्ली। अक्सर आपने देखा होगा कि किसी मरीज को ब्लड बैंक से लाकर खून चढ़ाया गया और उस खून ने मरीज की जान ले ली। ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर ये हुआ क्यों?

ब्लड बैंक

वैज्ञानिकों की मानें तो इसके लिए हमारा शरीर ही जिम्मेदार होता है। लंबे समय से रखा गया खून आघात के शिकार और ऐसे घायल व्यक्ति के लिए नुकसानदायक हो सकता है, जिसके शरीर से भारी मात्रा में खून बह चुका हो।

ब्लड बैंक का खून बन सकता है घातक!

इस तरह के मरीजों के लिए लंबे समय से रखे हुए पुराने खून का इस्तेमाल बेहद घातक होता है। इससे उनके रक्त संचार में शिथिलता आती है। साथ ही यह गंभीर रूप से प्रभावित अंगों में सूजन बढ़ाने के साथ फेफड़ों के संक्रमण को भी बढ़ा सकता है।

यह भी पढ़ें: खट्टी-मीठी स्ट्रॉबेरी खाने से पहले जान लो उसके जहरीले नुकसान,कहीं…

शोधकर्ताओं ने मरीजों के शरीर में पुराने संग्रहित लाल रक्त की कोशिकाओं के संचरण और बाद के बैक्टीरियल निमोनिया के बीच संबंध पाया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि ताजा खून की तुलना में, संग्रहित खून को इस्तेमाल करने से बैक्टीरिया की वजह से होने वाले फेफड़ों के संक्रमण में काफी वृद्धि देखी गई। यह अध्ययन एक स्वास्थ्य पत्रिका पीएलओएस मेडिसिन में प्रकाशित हुआ है।

=>
LIVE TV