STF के चंगुल में फंसे बोर्ड परीक्षाओं में सामूहिक नकल कराने वाले प्रधानाचार्य और 2 शिक्षक

लखनऊ/मिर्जापुर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के हाईस्कूल और इंटर के बोर्ड परीक्षा में सामूहिक नकल कराने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को एसटीएफ ने शनिवार को जनपद मिर्जापुर के एक इंटर कालेज में छापा मारकर गिरफ्तार किया।

सामूहिक नकल

एसटीएफ (वाराणसी) की टीम ने तीनों को मिर्जापुर के थाना जिगना के सिहावल में बाबू घनश्याम सिंह इंटर कालेज और बगल में स्थित बाबू घनश्याम आईटीआई कॉलेज परीक्षा केंद्र से पकड़ा। पकड़े गए लोगों में बाबू घनश्याम काजेल को प्रधानाचार्य और दो शिक्षक हैं।

यह भी पढ़ें : अदालतें कर सकती हैं ग्रामीण ऋण ब्याज दर की जांच : सर्वोच्च न्यायालय

एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह ने बताया कि पकड़े गए लोगों में बाबू घनश्याम इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य व केंद्र व्यवस्थापक प्रदीप कुमार सिंह, इसी कालेज के शिक्षक जितेंद्र सिंह और मुराजपुर स्थित सम्राट अशोक इंटर कॉलेज के अध्यापक लल्लन प्रसाद शामिल हैं। इन लोगों पास से प्रिंटर, कम्पयूटर, दो हाईस्कूल सामाजिक विज्ञान विषय के पेपर की फोटो कॉपी, विषय की गाइड, पांच बिना कवर की आंसर शीट, प्रश्नबैंक, उत्तर लिखी पर्ची, तीन मोबाइल और 11240 रुपये मिले हैं।

यह भी पढ़ें : सख्ती देख दस लाख छात्रों ने छोड़ी बोर्ड परीक्षा : डॉ. दिनेश शर्मा

टीम ने शनिवार सुबह 9:40 बजे दोनों केंद्रों पर छापा मारा और प्रश्नों का उत्तर लिख रहे लल्लन प्रसाद एवं जितेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया और दोनों को इस काम के लिए कहने वालेबाबू घनश्याम इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य प्रदीप कुमार सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में पता चला कि प्रधानाचार्य प्रदीप कुमार सिंह ही सामूहिक नकल कराने का मुख्य सरगना है। तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

=>
LIVE TV