7.5 टन सोना आएगा स्वर्ण योजना में

 

gold-prices_55efc0196043aएजेंसी/ नई दिल्ली : देश में स्वर्ण मौद्रीकरण योजना को लेकर कई बड़े-बड़े मंदिर सामने आ रहे है जोकि यहाँ सोना जमा करवा रहे है. इसके अंतर्गत अब तिरुपति बालाजी की देखभाल में लगा हुआ तिरुमला तिरुपति देवस्थानम भी अपना करीब 7.5 लाख टन सोना जमा करवाने को लेकर सामने आ रहा है. गौरतलब है कि अभी कुछ समय पहले ही तिरुमला के द्वारा इस योजना के अंतर्गत 1.3 टन सोना पंजाब नेशनल बैंक में जमा करवाया गया है.

इसके साथ ही सुनने में आ रहा है कि सरकार से इस योजना को लेकर नियमों में बदलाव करने के लिए भी कहा गया है. ऐसा इसलिए कहा गया है ताकि जल्द से जल्द मंदिर अपने पास मौजूद सभी सोने को जमा कर सके. इस मामले में जानकारी देते हुए तिरुमला के कार्यकारी अधिकारी डी. संबाशिव राव का यह बयान सामने आया है कि फ़िलहाल हमारे पास 7.5 टन सोना मौजूद है, और इस सोने में से अधिकतर सोना बैंकों में जमा है.

उन्होंने यह भी बताया है कि अभी हमारा सोना कई बैंकों में विभिन्न योजनाओं के तहत रख गया है. जैसे ही ये स्कीमें खत्म हो जाती है. वैसे ही इस सम्पूर्ण सोने को स्वर्ण योजना में जमा कर दिया जाना है. बता दे कि इस स्वर्ण मौद्रीकरण योजना के तहत तीन मुख्य घटक अल्पावधि, मध्यम अवधि व दीर्घावधि आ रहे है.

बता दे कि जहाँ अल्पावधि में ब्याज को भी सोने में बदल दिया जाता है और इसका भुगतान भी निवेशक को किया जाता है. तो वहीँ मध्यम अवधि और दीर्घावधि में मूलधन का भुगतान सोने या नकदी के रूप में किया जाता है. जबकि साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि ढाई फीसदी ब्याज का भुगतान केवल नकद रूप में ही किया जाना है.

=>
LIVE TV