200 की रफ्तार से दौड़ेगी स्पेन की ट्रेन, 21 को पहुंचेगी भारत

why-cant-we-get-a-melbourne-sydney-bullet-train-1425438379-crop_desktopएजेंसी/ भारतीय रेल की पुरानी पटरियों पर ही अब ट्रेन हवा से बातें करेंगी। यही नहीं, पटरियों की खटर-पटर और हिचकोलों से भी यात्रियों को निजात मिल जाएगी। दरअसल, स्पेन में बनी ट्रेन को देश की रेल पटरियों पर दौड़ाने की तैयारी की जा रही है। यह ट्रेन बार्सिलोना से पानी के रास्ते रवाना की गई है, जो 21 अप्रैल को भारत पहुंचेगी। इसका ट्रायल रन तीन रूटों पर बारी-बारी किया जाएगा।

स्पेन की यह ट्रेन 200 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से पुराने ट्रैक पर ही चलेगी। ट्रेन की बड़ी खासियत यह है कि घुमावदार रेल ट्रैक पर भी इसकी रफ्तार में कोई कम नहीं आएगी। इसमें ऑटोमेटिक टिल्ट यानी झुकाव होगा। ट्रेन के एक्सल भी ऑटोमेटिक मोड वाले होंगे, जो ट्रैक के अनुसार ट्रेन को बैलेंस करेंगे।

रेलवे मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, यह ट्रेन स्पेन की टैलगो कंपनी ने बनाई है। इसे रेलवे मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है। इस ट्रेन का पहला ट्रायल रन 0-80 किलोमीटर की रफ्तार पर बरेली-मुरादाबाद ट्रैक पर किया जाएगा।

पलवल-मथुरा रूट पर ट्रेन 80-100 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ेगी। तीसरा और फाइनल ट्रायल दिल्ली-मुंबई मार्ग पर होगा। इस ट्रैक पर ट्रेन 100-200 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलेगी। 

रेलवे अधिकारी के अनुसार, स्पेन से कुल 16 कोच मंगाए गए हैं। ट्रेन को मुंबई के बंदरगाह पर 21 अप्रैल को उतारा जाएगा। इसके बाद इज्जत नगर रेल डिपो में इसे असेंबल किया जाएगा। यह ट्रायल रन के लिए मई के अंतिम सप्ताह तक ट्रैक पर उतर सकती है। 

गौरतलब है कि गतिमान ट्रेन चलाने के लिए दिल्ली-आगरा ट्रैक में काफी सुधार किया गया। इसके बावजूद गतिमान 160 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से नहीं चला पा रही है। 

=>
LIVE TV