तीन दिवसीय भगत ज्वैलर्स मेरठ सांस्कृतिक मेले का समापन

मेरठ : मेरा शहर मेरी पहल के तत्वाधान में साकेत आईटीआई ग्राउण्ड में चल रहे तीन दिवसीय भगत ज्वैलर्स मेरठ सांस्कृतिक मेले का समापन सोमवार देर रात्रि को बहुत सुन्दरता से सांस्कृतिक कार्यक्रम के बीच हुआ। मेले के तीसरे और आखिऱी दिन भी शहरवासी अपनी सांस्कृतिक कलाओं एवं व्यंजनों का आनन्द उठाने मेले में बड़ी संख्या में पहुंचे। सांस्कृतिक महोत्सव के रूप में आयोजित इस अनूठे मेले एक ओर शहरवासियों को अपनी संस्कृति की वास्तविक झलक देखने को मिली, वहीं युवा पीढ़ी एवं नौनिहालों को भी अपनी संस्कृति व पारम्परिक कलाओं को जानने एवं समझाने का मौका मिला। इस आयोजन के माध्यम से शहर में तीन दिन तक मनोरंजन का एक बेहतरीन साधन उपलब्ध रहा। वहीं मेले के माध्यम से लुप्त होती पारम्पारिक कलाओं एवं कलाकारों को भी अपना हुनर दिखाने तथा उसका प्रसार करने का मौका मिला।

30 अप्रैल, 2016 को मेले का शुभारम्भ डीआईजी लक्ष्मी सिंह द्वारा किया गया। इसके बाद लोकसभा सांसद राजेन्द्र अग्रवाल, महापौर हरिकान्त अहलूवालिया, कमिश्नर मेरठ मण्डल आलोक सिन्हा, एडिश्नल कमिश्नर आरएन धामा, एडीएम सिटी एसके दूबे, एडीएम-एफ गौरव वर्मा, क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अमित श्रीवास्तव सहित अनेक गणमान्य व्यक्तियों द्वारा मेले में पहुंचकर मेले की शोभा को बढ़ाया गया।

तीन दिन तक चले इस मेले में कलाकारों द्वारा राजस्थान के कालबेलिया लोकनृत्य, मध्य प्रदेश के बधाई नृत्य, रागिनी व आल्हा गीत आदि के माध्यम से सांस्कृतिक छटा बिखेरते हुए कुछ इस कदर समां बांधा कि पूरे मेले के दौरान दर्शक सांस्कृतिक खुशबू में डूबे रहे। वहीं पंजाबी भांगड़ा नृत्य के सुरूर में डूबकर शहरवासी भी कलाकारों के साथ खूब थिरके। इस दौरान पाशा जादूगर के पारम्परिक जादू, कठपुतली के खेल, नाटक, मदारी के तमाशे, कुम्हार की जादुई कलाकारी और नट के करतब देखकर बच्चे बेहद खुश दिखाई दिए।
संवाददाता :- अक्षय कुमार

=>
LIVE TV