गढ़ मुक्तेश्वर में ट्रेन हादसा होते ही मेरठ मेडिकल कॉलेज को अलर्ट कर दिया गया

WhatsApp-Image-20160502 (6)मेरठ :गढ़ मुक्तेश्वर में ट्रेन हादसा होते ही मेरठ मेडिकल कॉलेज को अलर्ट कर दिया गया। रात में ही मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने इमरजेंसी में 2 00 बेड खाली कराकर मरीजों को अन्य वार्डों में शिफ्ट करा दिया। डॉक्टरों के अलावा जूनियर डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ को भी बुला लिया गया।

वहीं सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने मेडिकल कॉलेज पहुंचकर सीएमओ और सीएमएस से बात की, साथ ही हापुड़ के जिलाधिकारी से भी घायलों के बारे में पूछा। हालांकि देर रात तक हादसे में घायल कोई भी मरीज मेडिकल नहीं लाया गया था।

ट्रेन हादसे के बाद नजदीक में सबसे बड़े अस्पताल के अधिकारियों को फोन कर तैयारी करने को कहा गया था। इसके बाद मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. केके गुप्ता ने तत्काल तैयारी कराई। रात में सीएमएस डॉ. सुभाष, सीएमओ अजित चौधरी, सीएमओ सचिन कुमार समेत अन्य वरिष्ठ डॉक्टरों ने कई वार्ड के मरीजों को शिफ्ट करा दिया।

इमरजेंसी में भी 200 बेड खाली करा दिए गए। सीएमओ अजित चौधरी ने बताया कि जिला प्रशासन और हापुड़ प्रशासन द्वारा दी गई सूचना को देखते हुए रात में पूरी तैयारी कराई गई। बच्चा वार्ड मेें भी व्यवस्था की गई। स्ट्रेचर कम होने के कारण पुरानी स्ट्रेचर निकलवाई गई। अस्पताल कैंपस और बाहर रहने वाले डॉक्टरों और अन्य स्टॉफ को अलर्ट पर रहने के लिए सूचित कर दिया गया।

उधर, सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने मेडिकल कॉलेज पहुंचकर बताया कि उन्होंने डीएम हापुड़ से फोन पर बात कर घटना की जानकारी ली। जिसमें जिला प्रशासन ने कहा कि कुछ लोगों क ो चोट लगी हैं, जिन्हें अस्पताल में पहुंचाया गया है। रात तक करीब एक घंटे तक सांसद अस्पताल में डटे रहे।

=>
LIVE TV