आजम खां ने कहा कि अगर राज्यपाल उन्हें और राजी करना चाहते हैं तो बिल पर दस्तख्त कर दें

images (2)राज्यपाल द्वारा मुख्यमंत्री से आजम खां को लेकर शिकायत किये जाने पर आजम खां ने जिला रामपुर में स्थित जौहर विश्वविद्यालय में पत्रकारों से बात करते हुए प्रतिक्रिया दी
वहीं राज्यपाल और आजम खां की जगजाहिर छींटाकशी पर बोलते हुए आजम खां ने एक बार फिर कहा कि अगर वह नाराज हैं तो वह राज्यपाल को राजी कर लेंगे और अगर राज्यपाल उन्हें और राजी करना चाहते हैं तो बिल पर दस्तख्त कर दें। 60 साल से चले आ रहे गलत कानून को अब बदलना चाहते हैं जो समाजहित में है उस पर वह दस्तख्त कर दें। क्यों भाजपा के मेयरों को प्रोटेक्ट कर रहे हैं। एक मेयर को बचाने के चक्कर में पूरे प्रदेश का अहित क्यों कर रहे हैं। महामहिम हमारी बर्खास्तगी चाहते हैं फिर भी हमें अच्छे लगते हैं। मुझे जनता ने चुना है मैं उनसे नाराज नहीं हूं। वह काफी बुजुर्ग जईफ हैं और बुजुर्गों से नाराज नहीं होते। अगर वह राज्यपाल नहीं भी होते तो भी मैं उनसे नाराज नहीं होता।

हैलीकाॅप्टर अगस्टा मामले पर सूबे के कैबिनेट मंत्री आजम खां ने कुछ इस कहा . .

सूबे के काबीना मंत्री आजम खां ने हैलीकाॅप्टर अगस्टा मामले पर अपने प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि भाजपा ने एक बार फिर बोफोर्स का दरवाजा खोला है। ऐसे मुददे रूलिंग पार्टी या अपोजीशिन पार्टी उस वक्त उठाती हैं जिस वक्त उनके पास मुददे नहीं रह जाते। उन्हेंाने अपील की बोफोर्स को मुददा न बनायें। कारगिल युद्ध और बोफोर्स का नाता बताया।

=>
LIVE TV