14 साल की उम्र में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल कर रचा इतिहास, यहां जानिये पूरी डिटेल

चौदह वर्षीय अगस्त्य जायसवाल कम उम्र में स्नातक की पढ़ाई पूरी करने वाले भारत के पहले छात्र बन गए हैं। अगस्त्य जायसवाल ने उस्मानिया विश्वविद्यालय से बीए मास कम्युनिकेशन और जर्नलिज्म की डिग्री पूरी की है। वह एक राष्ट्रीय स्तर के टेबल टेनिस खिलाड़ी भी हैं। इतना ही नहीं, अगस्त्य दोनों हाथों से लिखने की कला में भी माहिर हैं। अगस्त्य के माता-पिता को उन पर गर्व है। 

अगस्त्य जायसवाल एक बहु-प्रतिभाशाली बच्चा है। वह एक गायक और पियानो वादक हैं। इसके अलावा वह एक अंतरराष्ट्रीय मोटिवेशनल स्पीकर भी हैं। उनके माता-पिता का कहना है कि “प्रत्येक बच्चे में विशेष गुण होते हैं, इसलिए यदि माता-पिता अपने बच्चों के प्रति व्यक्तिगत ध्यान दें तो हर बच्चा अपने क्षेत्र में इतिहास रच सकता है।”

वहीं अगस्त्य ने बताया कि वे एमबीबीएस कर डॉक्टर बनना चाहते हैं। उनकी मां भाग्यलक्ष्मी का कहना है कि हमने उससे हमेशा विषयों को समझने और अपनी भाषा में पुन: पेश करने के लिए कहा, वह हमेशा हमसे सवाल भी पूछता है और हम उसका व्यावहारिक रूप से जवाब भी देते हैं। हमने उसे लिखावट और स्मृति अभ्यास का भी प्रशिक्षण दिया, वह भी एक खुले वातावरण में। भाषा और बुनियादी गणित जिसे हमने एक पद्धतिगत तरीके से प्रशिक्षित किया है। 

इससे पहले, अगस्त्य जायसवाल तेलंगाना में पहले छात्र थे, जिन्होंने 7.5 जीपीए के साथ 9 साल की उम्र में 10 वीं कक्षा पास की थी। 11 वर्षीय अगस्त्य जायसवाल 63% के साथ इंटरमीडिएट द्वितीय वर्ष की परीक्षा पास करने वाले भी तेलंगाना के पहले छात्र हैं। अगस्त्य जायसवाल हैदराबाद के सेंट मैरी कॉलेज यूसुफगुडा के छात्र हैं।

=>
LIVE TV