Sunday , December 11 2016
Breaking News

सावधान : अब मार्क करेंगे सोशल मीडिया पर सर्जिकल स्‍ट्राइक

नई दिल्‍ली। सोशल मीडिया पर आज कल खबरों की बाढ़ सी आई है, इन खबरों में ये जरूरी नही कि हर खबर सही हो। कभी-कभी कुछ ऐसी सामग्री सोशल मीडिया पर पोस्‍ट कर दी जाती है जो काफी भ्रम फैला देती है। इन भ्रामक खबरों से निपटने के लिए अक्‍सर इन सोशल साइटो को जिम्‍मेदार ठहराया जाता है। पर ये साइटें अपनी जिम्‍मेदारी से हमेशा बचती रहीं हैं।

खबरों की बाढ़

फेसबुक प्‍लेटफार्म पर शेयर की जाने वाली खबरों में से कितनी खबरों की जिम्मेदारी फेसबुक को लेनी चाहिए, इस बात पर साल भर चर्चा चलती रही। फेसबुक के को-फाउंडर और सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि उनकी साइट खबरें बनाने का बिजनस नहीं करती है। यूजर्स जिस बारे में बात करते हैं, यह साइट वही रिफ्लेक्ट करती है। शुक्रवार को फेसबुक ने बताया कि वह फेक न्यूज को फैलने से रोकने के लिए कुछ स्टेप्स फॉलो करेगा।

अमेरिकी चुनाव के दौरान तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डॉनल्ड ट्रंप के पक्ष वाली फेक खबरों को फैलाने का आरोप फेसबुक पर लगाया था। तब से ही फेसबुक को इसके लिए आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा है। जुकरबर्ग ने फेक खबरों के वायरल होने को लेकर टेक्निकल हल ढूंढने का फैसला लिया है।

अपनी पोस्ट पर जुकरबर्ग ने लिखा, ‘हम गलत खबर को गंभीरता से ले लेते हैं। हम इस समस्या पर लंबे समय से काम करते आए हैं। हमने कुछ सफलता भी हासिल कर ली है लेकिन अब भी बहुत काम करना बाकी है।’

LIVE TV