होम आइसोलेशन के लिए अधिकृत किए गए कोविड मरीजों के पास आवश्यक है पल्स ऑक्सीमीटर…

होम आइसोलेशन के लिए अधिकृत किए गए कोविड मरीजों के पास पल्स ऑक्सीमीटर हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन टेबलेट प्रत्येक दशा में उपलब्ध होना चाहिए। यदि किसी मरीज के पास पल्स ऑक्सीमीटर, थर्मामीटर नहीं है तो उसको एल-वन हॉस्पिटल में भर्ती कराएं। उक्त बातें जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र ने मंगलवार को जिला चिकित्सालय में आयोजित कोविड समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए कही।

उन्होंने सीएमओ डॉ. अशोक कुमार को निर्देशित किया कि कोविड के प्रभावी नियंत्रण के लिए अपने अधीन समस्त अपर एवं उप मुख्य चिकित्साधिकारियों को अलग-अलग कार्य आवंटित कर दें एवं उसकी नियमित समीक्षा करते हुए प्रभावी कार्यवाही कराएं। बैठक में निर्णय लिया गया कि संक्रमित मरीजों की जितनी मृत्यु हुई है उनकी डेथ ऑडिट रिपोर्ट जिलाधिकारी के सम्मुख प्रस्तुत करें एवं उसकी एक प्रति कंट्रोल कमांड सेंटर में रखना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने सभी चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिया कि जो कोविड-19 से पॉजिटिव पाए जा रहे हो उनको बिना विलंब किए हुए अस्पताल अथवा होम आइसोलेशन के लिए अधिकृत किया जाए। साथ ही यह सूचना तत्काल ही वेबसाइट पर अपलोड किया जाए ताकि राज्य स्तर को प्रेषित रिपोर्ट में भिन्नता न प्रदर्शित हो। इसके साथ ही सांस से ग्रसित सभी रोगियों की जांच कराने का निर्देश दिया गया। बैठक में सीएमओ, सीएमएस डॉ. पीएन सिंह, एसीएमओ डॉ. एके गुप्त, डॉ. सालिकराम पासवान, डिप्टी सीएमओ डॉ. सतीराम, डॉ. संजय कुमार वर्मा, जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. आशुतोष सिंह, डॉ. सुलतान अहमद, डॉ. मुकुल त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।

=>
LIVE TV