होटल आग्निकांड की जांच के आदेश, अब तक 17 की हो चुकी है मौत

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के आवास एवं शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार को मध्य दिल्ली के एक होटल में लगी भयावह आग की घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए। इस हादसे में एक बच्चे सहित 17 लोगों की मौत हो गई।

मंत्री ने कहा कि होटल के मालिक ने निर्माण मानदंडों का उल्लंघन किया था, और होटल की इमारत को छह मंजिला बना लिया था। जबकि इस इलाके में चार मंजिल बनाने की इजाजत है।

सत्येंद्र जैन, होटल के बाहर मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

जैन ने ट्वीट भी किया, “करोल बाग के होटल में आग। इसमें 17 लोगों की मौत हुई व दो घायल हैं। इसके मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दे दिए गए हैं। भवन निर्माण में कानून का उल्लंघन स्पष्ट है। चार मंजिल की इजाजत के बजाय, इमारत को एक अस्थायी मंजिल के साथ छह मंजिला बनाया गया। इलाके में इमारतों की अग्निशमन जांच के आदेश दिए गए हैं।”

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी घटनास्थल का दौरा किया। उन्होंने भवनों के मानदंडों के उल्लंघन पर टिप्पणी की और कहा कि मालिकों के पास घर के अंदर होटल व बार चलाने के वैध लाइसेंस हैं या नहीं, इसकी जल्द जांच की जाएगी।

इस दुखद घटना की वजह से आम आदमी पार्टी (आप) ने अपनी सरकार के चार साल पूरे पर प्रस्तावित एक कार्यक्रम को रद्द कर दिया। इसमें लोकप्रिय गायक विशाल ददलानी अपनी प्रस्तुति देने वाले थे।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, “करोल बाग की दुखद आग की घटना में कई लोगों की जान चली गई। इस वजह से आज दिल्ली में शाम को आयोजित ददलानी के कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है। शोकसंतप्त परिवारों के साथ हमारी हार्दिक संवेदनाएं हैं।”

अर्पित पैलेस होटल में एक बेसमेंट, एक भूतल व चार अन्य मंजिले थीं। एक परिवार ने कम से कम 35 कमरे बुक किए थे। परिवार शहर में एक विशेष कार्यक्रम के लिए ठहरा था।

सीबीआई के पूर्व अंतरिम निदेशक अवमानना के दोषी करार

आग कथित तौर पर तीसरी और चौथी मंजिल पर लगी, लेकिन यह नीचे भी फैल गई। सिर्फ बेसमेंट व भूतल आग से बचे रहे।

आग की वजह से तीन लोग इमारत से कूद गए। सुबह तड़के करीब साढ़े चार बजे कॉल मिलने पर घटनास्थल पर 25 दमकल की गाड़िया पहुंच गई थीं।

=>
LIVE TV