स्टेबलाइजर कारखाने का बाॅयलर फटने से वहां काम कर रहे एक श्रमिक की मौत, दो श्रमिक हुए घायल

स्टेबलाइजर कारखाने का बाॅयलर फटने से वहां काम कर रहे एक श्रमिक की मौत हो गई तथा दो श्रमिक घायल हो गए। धमाका इतना तेज था कि आसपास के लोग भी सहम गए। कारखाने की टीन उड़ गई तथा दीवारें गिर गई। घायलों को मेरठ रेफर किया गया है तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। एसडीएम, सीओ व नगर कोतवाली पुलिस के साथ दमकल की टीम भी मौके पर आ गई थी। देर शाम तक मृतक व घायलों के स्वजनों ने तहरीर नहीं दी थी।

यह घटना नगर कोतवाली क्षेत्र में कैलसा रोड पर देहात थाना के सामने की है। यहां पर मुहल्ला दरबारे कलां निवासी मोहम्मद आजम का स्टेबलाइजर व प्लास्टिक का सामान बनाने का कारखाना है। बुधवार दोपहर कारखाने में मुहल्ला छेबड़ा अंबेडकर नगर निवासी श्रमिक शुऐब व मुहल्ला कटकुई निवासी अरशद तथा एक अन्य युवक काम कर रहे थे। अचानक कारखाने का बाॅयलर तेज धमाके के साथ फट गया। धमाका इतनी तेज था कि आसपास के लोग भी सहम गए। कारखाने में बनी टिन की छत उड़ गई तथा दीवारें भी गिर गई। साथ ही वहां ख़ड़ी चार बाइक भी क्षतिग्रस्त हो गई। जबकि कारखाने में मौजूद शुऐब की मौके पर मौत हो गई। अरशद व दूसरा युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। धमाका होने के लगभग पांच मिनट बाद लोग वहां पहुंचे तो नजारा देख कर सहम गए। फौरन ही पुलिस व दमकल विभाग को सूचना दी गई। एसडीएम शशांक चौधरी, सीओ दिनेश यादव, प्रभारी निरीक्षक रविंद्र सिंह व सीएफओ केपी वर्मा भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इस मामले में देर शाम तक मृतक या घायलों के स्वजनों द्वारा तहरीर नहीं दी गई थी। प्रभारी निरीक्षक रविंद्र सिंह ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। परंतु मृतक या घायलों के स्वजनों द्वारा कोई तहरीर नहीं मिली है। मामले की जांच की जा रही है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। 

=>
LIVE TV