सुशांत केस की जांच को लेकर मुंबई और बिहार पुलिस में जंग, कमिश्नर का चौंकाने वाला खुलासा

मुंबई। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में लगातार उलझता जा रहा है। वहीं पहले मुंबई पुलिस जांच ने लगी थी पर अब बिहार पुलिस भी जांच में जुट गई है। वहीं इस केस को लेकर मुंबई और बिहार पुलिस दोनों में विवाद चल रहा है। बिहार पुलिस का कहना है कि मामले की जांच में मुंबई पुलिस की तरफ से सहयोग नहीं किया जा रहा है। वहीं, इस बीच सोमवार को मुंबई पुलिस के कमिश्नर परमवीर सिंह ने मीडिया से बातचीत की।

इस पूरे विवाद को लेकर कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा कि इस मामले की जांच करने का बिहार पुलिस के पास कोई अधिकार नहीं है, हम इस पर कानूनी सलाह ले रहे हैं। हमने अभी तक किसी को भी क्लीन चिट नहीं दी है। उन्होंने कहा कि हमारे पास किसी को क्वारनटीन करने का अधिकार नहीं है, वो सब BMC का मामला है। एक्टर के परिवार ने 16 जून को कहा था कि उन्हें इस मामले में किसी पर शक नहीं है।

कमिश्नर का कहना है कि सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती ने एक्टर का घर आठ जून को छोड़ दिया था, क्योंकि वो भी डिप्रेस थी। उन्होंने कहा कि उसकी हालत भी ठीक नहीं थी, इसलिए वो चली गई थी। इसके बाद सुशांत की बहन आई वो भी 13 को चली गई, क्योंकि उनकी बेटी के पेपर्स थे।

मुंबई पुलिस के कमिश्नर परमवीर सिंह के मुताबिक, रिया ने दो बार बयान दर्ज कराया है। जिसमें पता चला है कि उनके रिश्तों में कुछ खटास थी। उन्होंने अपने बयान में सुशांत से मिलने की कहानी से लेकर, एक्टर की मेंटल बीमारी और कुछ घटनाओं के बारे में भी बताया है। उन्होंने कहा कि सभी चीजों का क्रॉस चेक किया गया है। रिया और सुशांत के परिवार के बीच कुछ अनबन भी थी।

कमिश्नर ने बताया कि हमने सुशांत की बहन प्रियंका को दोबारा बयान दर्ज करने के लिए बुलाया था, लेकिन वो बयान देने की स्थिति में नहीं थीं। लेकिन परिवार ने किसी के खिलाफ कोई शक होने की बात नहीं की। उन्होंने बताया कि हमें सुशांत की डायरी मिली है, जिसमें वो अपना खर्च रखता था। वहीं सुशांत की तरफ से सीए को कहा गया था कि महीने का खर्च कम होना चाहिए।
मुंबई पुलिस के कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा कि सुशांत ने सुसाइड से पहले गूगल पर कई चीजें सर्च की थी। कमिश्नर ने कहा है कि मुंबई पुलिस ने सुशांत मामले में 56 लोगों के बयान दर्ज किए हैं।

=>
LIVE TV