सर्वदलीय बैठक में उठा सूखे का मसला

all-party-meeting_571c91b06b382एजेंसी/ नई दिल्ली : दरअसल संसद के आगामी सत्र को लेकर केंद्र सरकार द्वारा सकारात्मक प्रयास किए जा रहे हैं। अभी तक संसद की कार्रवाई हंगामाखेज रही है। ऐसे में केद्र सरकार के सांसदों द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं कि संसद के सत्र में किसी प्रकार की बाधा न हो और संबंधित बिल पारित हो पाऐं जिससे संसद का कार्य आगे बढ़े। इसके लिए लोकसभा स्पीकर के नेतृत्व में सर्वग्दलीय बैठक का आयोजन किया गया।

इस बैठक में कांग्रेस, जेडीयू , आरजेडी के सांसदों ने उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने के मुद्दे को उठाया। उल्लेखनीय है कि संसद का बजट सत्र 25 अप्रेल से प्रारंभ हो रहा है। इसी के साथ बैठक में लोकसभा सांसद जीतेंद्र रेड्डी ने दिल्ली में आॅड- ईवन का मसला उठाया।

उन्होंने कहा कि उनके पास केवल एक ही वाहन है इसलिए दूसरे वाहन का इंतजाम किया जाएं। इसके अलावा कांग्रेस के नेता प्रगतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि उत्तराखंड का मसला प्राथमिकता पर है। उन्होंने देश के कई क्षेत्रों में व्याप्त सूखे पर ध्यान दिए जाने की मांग भी की। इसके अतिरिक्त सूखे और पानी की आपूर्ति को लेकर चर्चा भी उन्होंने की।

=>
LIVE TV