संजय दत्त की कैंसर से जंग, मैं जानता हूं कितना दर्द होता है मेरे लिए…

संजय दत्त को लंग कैंसर होने की खबर है। संजय दत्त पिछले दिनों सांस लेने में तकलीफ के चलते अस्पताल में भर्ती हुए थे। उनके फेफड़ों में पानी भर गया था। उसे निकाला गया फिर टेस्ट के बाद पता चला कि उन्हें स्टेज 3 का कैंसर है।

संजय दत्त की जिंदगी में कैंसर शब्द नया नहीं है। अपनी जिंदगी में संजू बाबा ने जिसे सबसे ज्यादा प्यार किया उसकी मौत भी कैंसर से ही हुई, यानी संजय दत्त की मां नरगिस दत्त की। इतना ही नहीं संजय दत्त की पहली पत्नी ऋचा शर्मा ने भी ब्रेन ट्यूमर से लड़ते हुए जान गंवाई थी।


नरगिस और सुनील दत्त की जिंदगी में सबकुछ अच्छा चल रहा था, लेकिन उस वक्त तो जैसे सुनील दत्त की दुनिया ही उजड़ गई जब उन्हें पता चला कि नरगिस को कैंसर है। दुनिया के बेहतरीन डॉक्टरों से वो नरगिस का इलाज कराना चाहते थे और इसीलिए वो नरगिस को इलाज के लिए विदेश ले गए। नरगिस की कीमोथेरेपी चल रही थी, लेकिन दर्द ऐसा होता कि नरगिस तड़प उठती थीं। नरगिस की तड़प, उनका दुख और दर्द सुनील दत्त से झेला ना जाता।


नरगिस इससे पहले कि दर्द से उबर पातीं वो कोमा में चली गईं। नौबत यहां तक आ गई कि नरगिस को लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखना पड़ा। डॉक्टर हाथ खड़े कर चुके थे, लेकिन सुनील दत्त को उम्मीद थी कि नरगिस ठीक हो जाएंगी। जब कई दिनों तक हालात ऐसे ही बने रहे तो डॉक्टरों ने सुनील दत्त को सलाह दी कि वो नरगिस का लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा दें ताकि वो चैन से मर सकें। लेकिन कुछ दिनों के बाद नरगिस की मौत हो गई। नरगिस अपने बेटे के पहली फिल्म रॉकी भी नहीं देख पाईं।


संजय दत्त की पहली शादी 1987 में एक्ट्रेस ऋचा शर्मा के साथ हुई थी। ऋचा ने संजय के लिए अपना फिल्मी करियर तक छोड़ दिया था। लेकिन ऐसा कहा गया कि दोनों की लव स्टोरी में उस वक्त ब्रेक लग गया जब ऋचा को ब्रेन ट्यूमर हुआ। ऋचा अपना इलाज कराने तीन साल के लिए यूएस चली गईं। साल 1996 में ऋचा का ब्रेन ट्यूमर से निधन हो गया था। 

=>
LIVE TV