शोएब अख्तर ने डीविलियर्स पर साधा निशाना कहा – उन्होंने मुल्क के ऊपर पैसे को चुना…

क्रिकेट वर्ल्‍ड कप चल रहा है. दक्षिण अफ्रीका टीम की हालत बहुत खराब है. वह लगातार तीन मैच हार चुकी है. 5 जून को उसे भारत के हाथों हार का सामना करना पड़ा. टीम के बड़े प्लेयर्स में शुमार एबी डिविलियर्स रिटायरमेंट ले चुके हैं.

शायेब अख्तर

 

एबी वर्ल्‍ड कप में खेलना चाहते थे. टीम में वापस आना चाहते थे. इसके लिए उन्होंने टीम मैनेजमेंट को ऑफर भी दिया था, लेकिन मैनेजमेंट ने उनका ऑफर ठुकरा दिया.

क्रिकेट वेबसाइट ESPNcricinfo ने ये खुलासा किया है. जिस समय दक्षिण अफ्रीका टीम के खिलाड़ियों का विश्वकप के लिए चयन हो रहा था, उससे 24 घंटे पहले डिविलियर्स ने यह पेशकश की थी.

एक विचित्र मोड़ पर आकर टूटे इन सेलिब्रिटीज के रिश्ते, जानें कैसे

वहीं मैनेजमेंट के इस फैसले से डिविलियर्स के फैंस जहां नाराज हैं, वहीं कईयों ने इसे सही बताया है. इस लिस्ट में नया नाम पाकिस्तान पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का है.

दरअसल शोएब ने एबी को रिटायरमेंट के फैसले की टाइमिंग को लेकर लताड़ लगाई है. उन्होंने कहा कि एबी को पैसे और मुल्क में से एक को चुनना था. एबी ने पैसे को चुना.

एबी के ऊपर एक प्रेशर था कि वो आईपीएल का कॉन्ट्रैक्ट छोड़ दें, पीएसल छोड़ दें. और वर्ल्ड कप के लिए अपने आप को अवेलेबल करें. मेरे खयाल से उन्होंने अपनी अवेलिबेलिटी आईपीएल-पीएसएल को दे दी. उन्होंने कहा कि मैं अर्ली रिटायरमेंट लेना चाहता हूं.

मैं वर्ल्ड कप का हिस्सा नहीं बनना चाहता. जाहिर सी बात है एबी ने ये फैसला करते समय अपने फाइनेंस और इकॉनमिक्स को ध्यान में रखा. और अब उनका ये कहना कि साउथ अफ्रीका नीचे लगी है और मैं खेलने के लिए हाजिर हूं. ये महज सुर्खियों में बने रहने के लिए है. साउथ अफ्रीका उस समय भी खस्ता हालत में थी जब वो रिटायरमेंट लेकर चले गए थे.

 

वहीं शोएब का मानना है कि एबी अभी 2 साल और क्रिकेट खेल सकते थे. लेकिन उन्होंने रिटायर होने का गलत फैसला ले लिया. ये फैसला तो गलत था ही अब दोबारा वापसी की कोशिश करना उससे भी बड़ी गलती है. उन्होंने कहा,

”मुझे लगता है कि एबी को याद रखना चाहिए कि मुल्क सबसे पहले आता है. पैसे बन जाते हैं. आप ने पैसे की खातिर अपने मुल्क को छोड़ दिया. उस समय आपने ये डिसाइड कर लिया कि मुझे पैसे बनाने हैं और वर्ल्ड कप नहीं खेलना. और अभी आपके अंदर 2 साल का क्रिकेट बाकी था.

ये वर्ल्ड कप और टी-20 वर्ल्ड कप आप खेल सकते थे. अगर आपको पैसे बनाने हैं तो मुझे कोई दिक्कत नहीं. लेकिन इसके लिए सही तरीका अपनाइए. प्राथमिकता आपका देश होना चाहिए. और इस वक्त जब आपने फैसला कर लिया. तो फिर आप मर्द का बच्चा बनिए. मर्द का बच्चा तब बनता है जब पैसे छोड़ देता है.”

जहां पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज ने बताया कि उन्हें भी आईसीएल में खेलने के लिए मिलियन डॉलर्स के रकम की पेशकश हुई थी, लेकिन उन्होंने मना कर दिया.

मुझे भी आईसीएल से ऑफर मिला था. बोला गया कि पाकिस्तान छोड़ दो, आईसीएल खेल लो. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने कहा कि हम बैन लगा देंगे. मैंने कहा कि मुझे बैन की फिक्र नहीं है. मुझे बस पाकिस्तान से खेलना है. मुझे मिलियन डॉलर्स ऑफर हुए थे.

 

वहीं  मैंने ये ऑफर ठुकरा दिया. मेरे साथ के कई सारे लोग गए लेकिन मैं नहीं गया. आपने साउथ अफ्रीका को काफी सर्विस दी है. ये 2 आखिरी साल है. इन्हीं में लोग आपको याद करते हैं. लेकिन आपने गलत किया.

 

LIVE TV