शिक्षकों के लिए आई सबसे बुरी खबर, 50 की उम्र में कर दिया जाएगा OUT

शिक्षकों के लिए बुरी खबरपटना। बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने राज्य की शिक्षा व्यस्था को साफ सुथरा बनाने का संकल्प लिया है। बिहार शिक्षा व्यस्था के मामले में देश का सबसे पिछड़ा राज्य माना जाता है। इतना ही नहीं ढ़ेरों लोग बिहार की शिक्षा व्यस्था में सुधार लाने की मांग करने के बजाय उसका मजाक उड़ाते है।

भारतीय वायु सेना के लिए नहीं खरीदे जाएंगे एफ-16 लडा़कू विमान

इस वजह से नितीश कुमार ने शिक्षा विभाग से जुड़े अधिकारियों के साथ बैठक कर इस मामले में एक महत्वपूर्ण नियम लागू किया है।

बिहार शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ गुरुवार को हुई बैठक के बाद नितीश कुमार ने राज्य के सभी स्कूलों के 50 साल की उम्र से ज्यादा के शिक्षकों को रिटायर करने का फैसला किया है।

ये फैसला इस साल बिहार में मैट्रिक और इंटर के ख़राब रिजल्ट्स को देखते हुए लिया गया है।

पाकिस्तान में खलबली मचा देगा जेटली का ये बयान, सेना को बताया…

बिहार के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने कहा कि 50 साल से अधिक उम्र के शिक्षकों को रिटायरमेंट दिया जाएगा और 10वीं और 12वीं में खराब परफॉर्मेंस देने वाले सभी स्कूलों पर कार्यवाही की जाएगी।

अंजनी कुमार ने बताया कि बैठक में फैसला किया गया है कि बच्चों का IQ बढ़ाने के लिए ई-लर्निंग की व्यस्था का भी इंतजाम किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इस बात का भी खासा ध्यान रखा गया है कि एक साथ इतने शिक्षकों के रिटायर होने से बच्चों के पाठ्यक्रम पर कोई असर न पड़े।

देखें वीडियो :-

=>
LIVE TV