वित्त मंत्री बोले, अवैध खाते वाले नहीं सो सकेंगे चैन की नींद

arun-jaitley_1457950195एजेन्सी/  पनामा पेपर्स के खुलासे के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि जिन भी लोगों के नाम पनामा पेपर्स में आए हैं, उसकी जांच के लिए एक समिति का गठन किया जा चुका है।

अरुण जेटली ने कहा है कि जिन लोगों के खाते वैध हैं, उन्हें तो घबराने की कोई जरूरत नहीं है, लेकिन जिन लोगों के अवैध खाते हैं, वो अब रातों को चैन की नींद नहीं सो सकेंगे।

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्‍ट टैक्‍सेज के चेयरमैन अतुलेश जिंदल, सीबीडीटी की जांच समिति और आरबीआई अधिकारियों की एक बैठक हुई है। इस बैठक में तय किया गया है कि जांच में लेनदेन की वैधता को परखा जाएगा। साथ ही यह भी जांच की जाएगी कि कंपनियां कानूनी तरीके से खोली गई हैं या नहीं।

एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि यह पैनल हर ट्रांजेक्शन की जांच करेगा और पता लगाएगा कि वह वैध है या अवैध। उन्होंने कहा कि भले ही बाहरी देशों में पैसे निवेश करना कोई अपराध नहीं है, लेकिन जिस रास्ते से पैसे बाहरी देश ले जाए गए हैं उसकी जांच होगी। इसमें यह भी देखा जाएगा कि वह पैसे हवाला के जरिए बाहर गए या फिर टैक्स की चोरी करके ले जाए गए हैं।

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि वित्त मंत्रालय जल्द ही पनामा पेपर्स में आए लोगों के साथ बात करेगा और उनकी प्रतिक्रिया मांगेगा। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 
 
=>
LIVE TV