वर्ल्ड कप: पाकिस्तान टीम हुई घोषित! पर टीम में कौन है ये नया बॉलर जिसे मोहम्मद आमिर की जगह मिली ?

वर्ल्ड कप 2019. एक के बाद एक टीमें अनाउंस हो रही हैं. अब पाकिस्तान क्रिकेट टीम भी अनाउंस हो गई है. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यानी पीसीबी के चीफ सलेक्टर इंजमाम-उल-हक़ ने अपनी 15 मैंबर्स की टीम का ऐलान कर दिया है.

तो सबसे पहले नजर डाल लेते हैं इस टीम पर-

सरफराज़ अहमद (कप्तान), फ़खर ज़मान, इमाम उल हक़, बाबर आज़म, शादाब मलिक, शोएब मलिक, फरीम अशर, शहीन अफरीदी, हसन अली, आबिद अली, मोहम्मद हफीज़, इमाद वसीम, जुनैद खान, मोहम्मद हसनैन, हैरिस सोहेल

इनमें सभी खिलाड़ियों के नाम तो सुने होंगे मगर एक नाम नया है. और एक नाम आपको यहां से गायब लग रहा होगा. जो नाम नया है वो है मोहम्मद हसनैन का और जो मिसिंग है वो है मोहम्मद आमिर. इंजमाम उल हक़ ने टीम की घोषणा करते हुए कहा कि आमिर आउट ऑफ फॉर्म हैं.

अभी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज 0-5 से हारी थी पाकिस्तान और उसमें आमिर बिल्कुल भी परफॉर्म नहीं कर पाए थे. वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान ने हर बार की तरह एक सरप्राइज एलिमेंट भी टीम में शामिल किया है. इंजमाम ने कहा कि ये लगभग वहीं टीम है जिसने 2017 में चैपिंयस ट्रॉफी जीती थी. पाकिस्तान ने आईसीसी चैपियंस ट्रॉफी जीतने के बाद कोई सीरीज नहीं जीती है. आमिर ने चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से 14 वनडे मैच खेले हैं और सिर्फ 5 विकेट लिए हैं.

अमेरिका रिटर्न स्वाति यादव भारत में लड़ रहीं चुनाव, 10 साल अमेरिका में कंपनी की मालकिन रहीं!  

आइए अब जानते हैं इस नए पाकिस्तानी बॉलर मोहम्मद हसनैन के बारे में. तेज गेंदबाज है और अपनी स्पीड के चलते अपनी ओर ध्यान आकर्षित किया है. अभी 5 अप्रैल को हसनैन 19 साल के हुए हैं. पाकिस्तान के घरेलू टूर्नामेंट कायद-ए-आज़म ट्रॉफी में सिंतबर 2018 में डेब्यू किया था.

पीएसएल की क्वेटा ग्लेडिएटर्स के लिए टी20 खेलने इसी सीजन फरवरी में उतरे हैं. इस टूर्नामेंट में हसनैन की तरफ ध्यान तब गया जब उन्होंने 151 kph की स्पीड से गेंद फेंकी. पीएसएल में पेशावर जल्मी के खिलाफ 4 ओवरों में 30 रन देकर चार विकेट लेने वाले हस्नैन को इस मैच में मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड मिला था.

24 मार्च 2019 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यूएई में वनडे सीरीज के दूसरे मैच में डेब्यू करने का मौका मिला. अभी तक पाकिस्तान के लिए दो वनडे खेले हैं और तीन विकेट लिए हैं.

पाकिस्तान के हैदराबाद की गलियों से क्रिकेट खेलते हुए निकले हैं. पिता क्लब क्रिकेटर रहे हैं और हसनैन को पहले टेनिस बॉल क्रिकेट से ही खेलने का एक्सपीरियंस था. मगर फिर एक अकेडमी जॉइन कर ली और फिर पाकिस्तान की अंडर 16 टीम में भी जगह पा गए.

फिर एक दिन वकार युनिस की नजर इस बॉलर पर पड़ी और वो इसे पीसीएल में ले आए.  मगर 2016 में एक मामूली सी पैर की चोट बड़ी हो गई और वो पूरे सीजन नहीं खेल पाए. इनकी बॉलिंग की सबसे बड़ी स्ट्रेंथ है इनकी स्पीड. लगातार 140 kph की स्पीड से गेंदबाजी करते हैं. बाउंसर्स प्रभावी तरीके से फेंकते हैं. शोएब अख्तर और मोहम्मद शमी को अपना बॉलिंग आइडल मानते हैं.

अब सवाल ये कि इन्हें टीम में लिया क्यों गया. पाकिस्तान की कोशिश रहती है कि हर बड़े इवेंट में वो किसी नए खिलाड़ी को उतारें. जिसके बारे में बाकी टीमों को ज्यादा पता न हो. कोशिश यही होगी कि वर्ल्ड कप में इन्हें बड़े मुकाबले में मैदान पर उतारकर विरोधियों को चित्त किया जाए.

=>
LIVE TV