लिफ्ट देने के बहाने 25 दिनों तक किया दुष्कर्म

download (9)एजेंसी/  जमशेदपुर : मां-बाप से नाराज होकर अपने मामा के घर जा रही किशोरी को लिफ्ट देने के बहाने उसे एक आरोपी ने अगवाह कर हवस का शिकार बनाया. करीब 25 दिनों तक मासूम किशोरी के साथ घिनौनी हरकत को अंजाम देता रहा. माता-पिता के पहुंचने पर किशोरी ने आप-बीती सुनाई इसके बाद पुलिस में मामला दायर किया गया.

किशोरी ने शिकायत में बताया की वह 31 मार्च को माता-पिता से नाराज होकर टाटा-छपरा ट्रेन पकड़ कर मामा के घर बागबेड़ा आ रही थी. 1 अप्रैल की सुबह टाटानगर स्टेशन पहुंची और पैदल बागबेड़ा के लिए जा रही थी. लेकिन गुदड़ी बाजार पहुंचने के बाद वह घर का रास्ता भूल गई.

वहां उसे आलोक बिश्वास नाम का युवक मिला. उसने उसे मामा के घर छोड़ देने की बात कही और अपने सतझ बागबेड़ा के हरहरगुट्टू अपने एक साथी के घर ले गया. लड़की ने वहां विरोध किया और मोबाइल से अपने परिजनों से संपर्क करना चाहा. लेकिन आलोक ने मोबाइल छीन कर सिम तोड़ दी. कुछ दिनों के बाद आलोक के मित्र के साले की शादी में खरसावां ले गया. वहां उसके साथ दुष्कर्म किया.

आलोक जमशेदपुर लौटकर आया और दुष्कर्म करता रहा. इधर, लड़की के परिजन जमशेदपुर पहुंचे और किसी तरह लड़की को खोज निकाला. इसके बाद लड़की ने माता-पिता को पूरा घटनाक्रम बताया . पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

=>
LIVE TV