महिला टी-20 वर्ल्ड कप : वेस्टइंडीज ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर पहली बार खिताब जीता

एजेन्सी/  west-indies-womens-team_650x400_81459685182कोलकाता: हेली मैथ्यूज के करियर के पहले अर्धशतक और कप्तान स्टेफनी टेलर के साथ उनकी पहले विकेट की रिकॉर्ड शतकीय साझेदारी से वेस्ट इंडीज ने फाइनल में तीन बार के गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को आठ विकेट से हराकर पहली बार आईसीसी महिला वर्ल्ड टी20 का खिताब जीत लिया।

मैथ्यूज ने 45 गेंद में छह चौके और तीन छक्कों की मदद से 66 रन की पारी खेलने के अलावा कप्तान टेलर (59) के साथ पहले विकेट के लिए 120 रन जोड़े। इससे पहली बार फाइनल में पहुंचे वेस्ट इंडीज ने ऑस्ट्रेलिया के चुनौतीपूर्ण लक्ष्य को बौना साबित करते हुए 19.3 ओवर में दो विकेट पर 149 रन बनाकर जीत दर्ज की। टेलर ने 57 गेंद का सामना करते हुए छह चौके मारे।

इससे पहले लगातार चौथी बार फाइनल में पहुंचने वाले ऑस्ट्रेलिया ने सलामी बल्लेबाज एलिस विलानी (52) और कप्तान मेग लैनिंग (52) के अर्धशतक और दोनों बीच दूसरे विकेट की 77 रन की साझेदारी से पांच विकेट पर 148 रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया। विलानी ने 37 गेंद की अपनी पारी में नौ चौके जड़े, जबकि लैनिंग ने 49 गेंद का सामना करते हुए आठ चौके मारे। एलिस पैरी दो छक्कों की मदद से 23 गेंद में 28 रन बनाए और कप्तान के साथ तीसरे विकेट के लिए 42 रन जुटाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरे वेस्ट इंडीज को टेलर और मैथ्यूज की सलामी जोड़ी ने बेहतरीन शुरुआत दिलाई। दोनों ने सतर्क शुरुआत करते हुए पहले तीन ओवर में नौ रन जोड़े, लेकिन इसके बाद ऑस्ट्रेलिया की सभी गेंदबाजों को निशाना बनाया।

पावर प्ले खत्म होने के बाद दोनों बल्लेबाजों ने स्ट्राइक रोटेट करने को तरजीह दी, लेकिन खराब गेंदों पर बाउंड्री भी जड़ी। मैथ्यूज ने बायें हाथ की स्पिनर जेस योनसेन पर छक्के और चौके के साथ 35 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। टेलर 42 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रही जब पैरी ने अपनी ही गेंद पर उनका तेज कैच टपका दिया। वेस्ट इंडीज को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 32 रन चाहिए थे। टेलर ने क्रिस्टन बीम्स की गेंद पर एक रन के साथ 48 गेंद में अर्धशतक पूरा किया लेकिन इस लेग स्पिनर ने इसी ओवर में मैथ्यूज को मिडविकेट पर एलेक्स ब्लैकवेल के हाथों कैच कराके इस साझेदारी को तोड़ दिया।

फारेल के 19वें ओवर में कप्तान टेलर भी प्वाइंट पर जेस को कैच दे बैठी, लेकिन डियांड्रा डोटिन ने 12 गेंद में नाबाद 18 रन की पारी खेलकर टीम को जीत दिला दी। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया की कप्तान लैनिंग ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया, लेकिन हेली मैथ्यूज के दूसरे ओवर में ही एलिसा हीली (4) ने इस ऑफ स्पिनर को उनकी गेंद पर वापस कैच थमा दिया।

सलामी बल्लेबाज विलानी ने इसके बाद कप्तान के साथ मिलकर पारी को संवारा। इस साझेदारी के दौरान विलानी पूरी तरह छाई रही। उन्होंने तेज गेंदबाज शामिला कोनेल पर चौके से खाता खोलने के बाद मैथ्यूज पर दो चौके मारे। विलानी ने वेस्ट इंडीज की कप्तान टेलर का स्वागत दो चौकों के साथ किया, जबकि डोटिन के पहले ओवर में तीन चौकों के साथ टीम का स्कोर छठे ओवर तक एक विकेट पर 54 रन तक पहुंचाया।

टेलर ने इसके बाद डियांड्रा को गेंदबाजी में वापसी कराई और इस तेज गेंदबाज ने विलानी को कप्तान के हाथों कैच करा दिया। एलिस ने 37 गेंद का सामना करते हुए नौ चौके जड़े। कप्तान लैनिंग ने इसके बाद मोर्चा संभाला और डियांड्रा के अगले ओवर में लगातार तीन चौके जड़े और 14वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। उन्होंने अनीसा पर चौका जड़ा और फिर एक रन के साथ 45 गेंद में अपना नौवां अर्धशतक पूरा किया। मौजूदा टूर्नामेंट में लैनिंग का यह तीसरा अर्धशतक है। पैरी ने क्विंटाइन पर पारी का पहला छक्का जड़ा लेकिन अगली गंेद पर उन्हें जीवनदान मिला जब क्षेत्ररक्षक ने उनका कैच टपका दिया।

लैनिंग अनीसा की सीधी गेंद को चूककर पगबाधा आउट हो गई। पैरी ने टेलर पर लांग आन पर छक्का मारा लेकिन डियांड्रा के पारी के अंतिम ओवर में पहली तीन गेंद में कोई रन नहीं बनाने के बाद वह पगबाधा हो गई। उन्होंने 23 गेंद में दो छक्के मारे। अगली गेंद पर एरिन ओसबोर्न (0) रन आउट हुई, जबकि एलेक्स ब्लैकवेल (नाबाद 3) ने अंतिम गेंद पर एक रन लिया जो इस ओवर का एकमात्र रन रहा।

वेस्ट इंडीज की ओर से डियांड्रा सबसे सफल गेंदबाजी रही, जिन्होंने 33 रन देकर दो विकेट चटकाए। ऑफ स्पिनर अनीसा मोहम्मद ने किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 19 रन देकर एक विकेट हासिल किया।

=>
LIVE TV