मनमोहन सिंह 50 साल बाद फिर से छात्रों को पढ़ाएंगे

manmohan-singh-1459999006एजेन्सी/एजेन्सी/चंडीगढ़ पचास साल पहले पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने पंजाब विश्वविद्यालय में छात्रों को अंतिम बार पढ़ाया था। अब वह फिर छात्रों को पढ़ाने के लिए तैयार हो गए हैं। पूर्व प्रधानमंत्री यहां जवाहरलाल नेहरू चेयर के प्रमुख होंगे। उपकुलपति प्रो. अरुण कुमार ग्रोवर ने बताया कि डॉ. सिंह ने विश्वविद्यालय के उस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है, जिसमें उनसे लम्बे समय से खाली पड़े चेयर प्रोफेसर का पद संभालने का आग्रह किया गया था।

उल्लेखनीय है कि सिंह ने 1954 में पंजाब यूनीवर्सिटी से अर्थशास्त्र में एमए किया था और 1957 में अर्थशास्त्र के सीनियर लेक्चरर के रूप में काम संभाला था। संयुक्त राष्ट्र सचिवालय में आर्थिक मामलों के अधिकारी नियुक्त होने तक यानी 1966 तक वे यहां रहे। प्रो. ग्रोवर ने बताया कि पद संभालने के बाद कैंपस में डॉ. सिंह फैकल्टी एवं विद्यार्थियों से रू-ब-रू होंगे। उपकुलपति ने अर्थशास्त्र विभाग प्रमुख से कहा है कि वह कैंपस में पूर्व प्रधानमंत्री के व्याख्यान को लेकर रूपरेखा और तिथि तय करें। प्रो. ग्रोवर ने डा. सिंह की व्यस्तता को देकते हुए वीडियो कान्फ्रेंसिंग के विकल्प पर भी विचार करने को कहा है।

=>
LIVE TV